ट्रांसफर आदेश की अनदेखी पड़ी भारी:मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने सचिव किशनपुरा को निलंबित किया, जनपद CEO को कारण बताओ नोटिस

छतरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अमर बहादुर सिंह ने आदेश का पालन नहीं करने पर एक सचिव को निलंबित कर दिया है। वहीं, जनपद पंचायत बकस्वाहा के सीईओ हर्ष खरे को कारण बताओ नोटिस जारी किया है खरे से तीन दिन में जबाव मांगा गया है।

यह है मामला
ग्राम पंचायत किशनपुरा जनपद पंचायत बकस्वाहा में पदस्थ सचिव राममिलन वासुदेव का चार महीने पहले ट्रांसफर कर दिया गया था। उन्हें जनपद पंचायत बिजावर की ग्राम पंचायत जसगुवांखुर्द में ज्वाइन करना था। ट्रांसफर आदेश के बाद भी जनपद के सीईओ ने सचिव को रिलीव नहीं किया। वहीं, सचिव ने भी जनपद पंचायत जसगुवांखुर्द में अपनी ज्वाइनिंग नहीं दी। वह बकस्वाहा की ग्राम पंचायत में काम करता रहा। मामले की जानकारी लगते ही सिंह ने कार्रवाई की। निलंबन अवधि में सचिव का मुख्यालय जनपद पंचायत बिजावर रहेगा।

खबरें और भी हैं...