पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दस्तक अभियान:आज से 13 फरवरी तक रहेगा जारी; स्वास्थ्य व महिला एवं बाल विकास विभाग का संयुक्त अभियान शुरू

छतरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छतरपुर| प्रदेश व्यापी दस्तक अभियान आज सोमवार से शुरू हो रहा है, जो 13 फरवरी तक संचालित होगा। इस अभियान में पांच वर्ष से छोटे बच्चों वाले परिवारों में उनके घर तक स्वास्थ्य व पोषण सेवाएं पहुंचाई जाएगी। यह स्वास्थ्य व महिला एवं बाल विकास विभाग का संयुक्त अभियान है।

अभियान के तहत स्वास्थ्य व महिला एवं बाल विकास विभाग के संयुक्त दल एएनएम आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा 5 वर्ष से छोटे बच्चों वाले परिवारों में घर तक स्वास्थ्य व पोषण सेवाओं की दस्तक देकर बच्चों में पाई जाने वाली बीमारियांे की सक्रिय पहचान व उचित के प्रबंधन करेंगे। 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में प्रमुख बाल्यकालीन बीमारियों की सामुदायिक स्तर पर सक्रिय पहचान द्वारा त्वरित प्रबंधन ताकि बाल मृत्युदर में कमी लाई जा सके।

9 माह से 5 वर्ष तक के सभी बच्चों को विटामिन ए अनुपूरण, बच्चों में दिखाई देने वाली जन्मजात विकृतियों व वृद्वि विलंब की पहचान, 2 वर्ष की आयु वाले बच्चों की माताओं को समुचित शिशु एवं बाल आहारपूर्ति संबंधी समझाईश देना, एसएनसीयू व एनआरसी से छुट्टी प्राप्त बच्चों में बीमारी की स्क्रीनिंग व फालोअप को प्रोत्साहन, गृह भेंट के दौरान आंशिक रूप से टीकाकृत व छूटे हुए बच्चों की टीकाकरण स्थिति की जानकारी ली जाएगी।

अभियान के दौरान यह गतिविधियां की जाएंगी
इस अभियान में समुदाय में बीमार नवजातों और बच्चों की पहचान की जाएगी और जरूरत अनुसार प्रबंधन व रेफरल की कार्रवाई होगी। इसके अलावा 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में शैशव व बाल्यकालीन निमोनिया की त्वरित पहचान, प्रबंधन व रेफरल, 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में गंभीर कुपोषित बच्चों की सक्रिय पहचान की जाएगी। बच्चों में गंभीर एनीमिया की सक्रिय स्क्रीनिंग, रेफरल व प्रबंधन, बाल्यकालीन दस्त रोग के नियंत्रण के लिए ओआरएस व जिंक के उपयोग संबंधी जागरूकता को बढ़ावा दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें