पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Chhatarpur
  • DPC Said The Responsibility Of Management To Get The Nomination Done; Even After 50 Years, Registered On Government Land, No Mutation Done

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्कूल की जमीन पर अतिक्रमण:डीपीसी बोले- नामांतरण कराना प्रबंधन की जिम्मेदारी; 50 साल बाद भी शासकीय जमीन पर दर्ज, नहीं हुआ नामांतरण

छतरपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कलेक्टर बंगले के सामने स्थित डेरा पहाड़ी स्कूल की जमीन पर कब्जा

मुख्यमंत्री के निर्देश पर इन दिनों प्रदेश सहित छतरपुर जिले में भू-माफियाओं पर अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाकर शासकीय जमीन को अतिक्रमण मुक्त किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर जिला मुख्यालय पर कलेक्टर के बंगले के सामने स्थित 50 साल पुराने डेरा पहाड़ी स्कूल की जमीन शासकीय दर्ज होने के साथ ही सीमांकन, नामांतरण और बाउंड्री न होने से आसपास के दबंग इस जमीन पर लगातार कब्जा कर रहे हैं। वहीं शिक्षा विभाग के डीपीसी आरपी लखेर शासकीय जमीन पर दर्ज इस स्कूल की जमीन को शिक्षा विभाग के नाम पर दर्ज कराने के लिए स्कूल प्रबंधन को दोषी ठहरा रहे हैं।

शहर के पुराना पन्ना नाका पर कलेक्टर शीलेंद्र सिंह के बंगला के सामने स्थित पहाड़ी पर 50 साल पुराना डेरा पहाड़ी माध्यमिक स्कूल मौजूद है। यह स्कूल परिसर जिस जमीन पर मौजूद है यह जमीन सालों गुजर जाने के बाद भी राजस्व रिकॉर्ड में शासकीय भूमि दर्ज है। यह सवा 3 एकड़ जमीन खसरा नंबर 3215/2 शासकीय दर्ज होने एवं सीमांकन न होने से आसपास के दबंग इस जमीन पर लगातार कब्जा कर अतिक्रमण कर रहे हैं।

स्कूल का सवा 3 एकड़ क्षेत्र सिर्फ एक एकड़ में सिमटा
इस संबंध में शिक्षा विभाग के आला अधिकारी स्कूल प्रबंधन को सालों से नींद में सोते रहने की बात कहते हुए उसी को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। यही कारण है कि स्कूल का सवा 3 एकड़ क्षेत्र सिर्फ एक एकड़ में सिमट कर रह गया है।

माध्यमिक सहित तीन स्कूल के छात्र और शिक्षक शराबियों से परेशान: डेरा पहाड़ी माध्यमिक स्कूल में इस माध्यमिक स्कूल के साथ ही पन्ना रोड स्थित परिहार क्रेशर के पास का वार्ड क्रमांक 31 का प्राथमिक स्कूल सहित वार्ड क्रमांक 1 का प्राथमिक स्कूल संचालित होता है। इन तीनों स्कूलों के मिलाकर 236 छात्र-छात्राएं पढ़ाई करते हैं। एक परिसर में एक साथ तीन स्कूल संचालित होने के बाद भी शिक्षा विभाग सालों से इस स्कूल परिसर की जमीन को राजस्व रिकॉर्ड में शासकीय से स्कूल के नाम दर्ज नहीं करा पाया। यहीं कारण है कि अब आसपास के लोग इस जमीन पर लगातार कब्जा कर रहे हैं। साथ ही रात के समय आसपास के लोग स्कूल के खुले परिसर में शराबखोरी कर बोतले डाल रहे हैं।

ये हैं इनके जिम्मेदार

डेरा पहाड़ी स्कूल प्रबंधन

क्यों : सालों से डेरा पहाड़ी स्कूल की जमीन राजस्व रिकॉर्ड में शासकीय दर्ज होने की जानकारी होने के बाद भी यहां के प्रबंधन ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। इस कारण आसपास के लोग इस जमीन पर कब्जा करते चले गए और आज भी कर रहे हैं।

स्कूल की जमीन राजस्व रिकॉर्ड में शासकीय दर्ज होने की जानकारी लगते ही स्वयं के खर्च पर इसका खसरा और नक्शा निकलावाया। अब विभाग के अधिकारियों और छतरपुर तहसीलदार को सीमांकन और नामांतरण के लिए आवेदन दिया है।
- आदेश मिश्रा, एमएच डेरा पहाड़ी स्कूल

शिक्षा विभाग के आला अधिकारी

क्यों : शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों को इस बात की सालों से जानकारी है कि डेरा पहाड़ी स्कूल की जमीन राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज है। इसके बाद भी वे मामले काे टालते हुए स्कूल प्रबंधन को दोषी ठहरा रहे हैं। जबकि अधिकारियों को चाहिए कि मामला सामने आया है ताे उसका निदान करें।

शहरी क्षेत्र के स्कूलों में विभाग की ओर से बाउंड्री निर्माण का प्रावधान नहीं है, इसलिए निर्माण संभव नहीं है। स्कूल की जमीन राजस्व रिकॉर्ड शासकीय दर्ज होने का मतलब है कि स्कूल प्रबंधन सालों से सो रहा है। इस जमीन को स्कूल के नाम दर्ज कराने की जिम्मेदारी उन्हीं की है।
- आरपी लखेर, डीपीसी छतरपुर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें