पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आग का तांडव:खेत से निकले बिजली के तारों की चिंगारी से लगी आग, 60 एकड़ की फसल खाक

छतरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • महाराजपुर क्षेत्र के ग्राम बुडरख, नाथपुर, मनकारी, नेगुआं में हुई आग लगने की घटना

महाराजपुर क्षेत्र के ग्राम बुडरख गांव में मंगलवार को गांव के कई किसानों के खेत में खड़ी गेहूं की फसल में आग लगने से लाखों की फसल जलकर खाक हो गई। तेज हवाएं चलने से आग पर काबू पाना मुश्किल हो रहा और देखते ही देखते खेतों में खड़ी गेहूं की फसल को आग ने जलाकर खाक कर दिया।

इस आगजनी से किसान इंद्रपाल चौबे, प्रह्लाद, रामपाल सिंह परमार, पुष्पेंद्र सिंह, पूरन कुशवाहा, दयाराम अहिरवार, गणेश अहिरवार, परमलाल कुशवाहा, रामेश्वर प्रसाद पटेल, माया देवी पटेल, रोहित पटेल, मोहित पटेल, बालकिशन पटेल, भंती पटेल, रमेश पटेल, जगतराज पटेल, चंद्रभान पटेल, चेतराम अहिरवार, दयाराम अहिरवार सहित 50 से अधिक बुडरख, नाथपुर और मनकारी के किसानों के खेतों में खड़ी गेहूं की फसल जल गई। किसानों ने आग लगने का कारण विद्युत खंभे के तारों के आपस में टकराने से हुए शॉर्टसर्किट बताया है।

मंगलवार की दोपहर लगी आग की तेज लपटें उठने से गांव में अफरा तफरी मच गई। बड़ी संख्या में ग्रामीण भागते हुए अपने खेतों में जल रही आग के पास पहुंचे और डीजल इंजन से टयूबवेल चलाकर आग बुझाने का प्रयास किया। इन किसानों और ग्रामीणों ने कई घंटों की मशक्कत के बाद इस आग पर काबू पाया। पर तब तक खेतों में खड़ी गेहूं की फसल जलकर नष्ट हो गई। इसके साथ ही महाराजपुर क्षेत्र में नेगुवा गांव के कल्लू यादव और हल्कू चौरसिया के खेतों में आग लगने से गेहूं की फसल जल गई। वहीं महाराजपुर के मनोज चौरसिया के खेत में खड़ी फसल में आग लग गई।
तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर किया मुआयना
आग लगने की जानकारी लगते किसान इंद्रपाल चौबे ने महाराजपुर तहसीलदार को सूचना दी। सूचना मिलते ही तहसीलदार आनंद जैन तत्काल मौके पर पहुंचे और मुआयना किया। मौके पर पहुंची तहसीलदार ने तत्काल ही आगजनी से हुए किसानों के नुकसान की जानकारी एकत्र करने संबंधित पटवारी को निर्देश दिए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

    और पढ़ें