पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:गंभीर मरीज आने के 30 मिनट पहले खाेला काेविड आईसीयू, ऑक्सीजन लेवल कम होने से हुई मौत

छतरपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बड़ामलहरा में परवारी गांव के 45 वर्षीय व्यक्ति की हालत गंभीर होने पर लाया गया जिला अस्पताल

कोरोना संक्रमण के चलते 8वें दिन गुरुवार की दोपहर फिर एक मरीज की मौत हो गई। बड़ामलहरा क्षेत्र में परवारी गांव के 45 वर्षीय व्यक्ति की हालत गंभीर होने पर उसे जिला अस्पताल लाया गया। यहां पर जांच में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर मरीज को कई दिनों बाद कोविड आइसीयू को खोलकर वार्ड में भर्ती किया गया। पर हालत गंभीर होने के कारण कुछ समय बाद ही मरीज की मौत हो गई।
बड़ामलहरा क्षेत्र में परवारी गांव के 45 वर्षीय व्यक्ति की हालत गंभीर होने पर उसे बड़ामलहरा अस्पताल के डॉक्टर ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। गुरुवार की सुबह साढ़े 9 बजे पहुंचे मरीज की हालत गंभीर होने पर उसकी एंटीजन किट से जांच की गई। जांच में यह व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया।
हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल प्रबंधन ने महीनों से बंद पड़े कोविड आइसीयू को खुलवाया और मरीज को भर्ती कर इलाज शुरू किया। पर मरीज के शरीर में ऑक्सीजन लेवल कम होने से दोपहर 12.40 बजे उसकी मौत हो गई।
मरीज की मौत के बाद जिला अस्पताल प्रबंधन ने कर्मचारियों के माध्य से शव को पैक कराते हुए जिला प्रशासन को जानकारी दी। इसके बाद स्थानीय प्रशासन और अस्पताल प्रबंधन ने मिलकर सागर रोड स्थित मुक्तिधाम में शव का परिजनों की मौजूदगी में कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार कराया।
तीन निकले पॉजिटिव, 19 मरीज हुए डिस्चार्ज
सागर लैब द्वारा गुरुवार की देर शाम 181 सैंपल की जांच रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को दी गई। जिसमें से सभी सैंपल की जांच निगेटिव पाई गई। वहीं जिला अस्पताल की एंटीजन किट द्वारा 46 सैंपल की जांच की गई। जिसमें छतरपुर शहर का एक व्यक्ति और बड़ामलहरा के दो व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए, जिसमें से एक की मौत हो गई। साथ ही 3 मरीजों की हालत गंभीर होने पर आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है।

वहीं स्वस्थ्य होने पर गुरुवार को खजुराहो, बकस्वाहा, बड़ामलहरा और छतरपुर सहित 19 मरीजों को स्वस्थ्य होने पर गुरुवार की सुबह मेडिकल टीम द्वारा डिस्चार्ज किया गया। एक दिन में एक साथ 19 मरीजों के डिस्चार्ज होने से जिले में एक्टिव केस की संख्या घटकर 88 पर आ गई है।
चार से पांच दिन में आ रही सागर से जांच रिपोर्ट
जिला अस्पताल सहित जिले में मौजूद स्वास्थ्य केंद्रों द्वारा लगातार कोरोना संदिग्धों के सैंपल लेते हुए सागर लैब में जांच के लिए भेजे जा रहे हैं। लेकिन सागर लैब द्वारा जांच रिपोर्ट चार से पांच दिनों में स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध कराई जा रही है। कई-कई दिनों तक संदिग्धों की जांच रिपोर्ट न आने से इस दौरान यह मरीज आराम से घूमते रहते हैं।

इनके लगातार घूमने से छतरपुर शहर सहित जिले के विभिन्न नगरों और कस्बों में लगातार काेरोना के मरीज बढ़ते जा रहे हैं। यदि इस सिलसिले को नहीं रोका गया तो आने वाले दिनों में जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या बहुत अधिक हो जाएगी।

ऑक्सीजन लेवल कम होने से मरीज की हुई मौत

  • बड़ामलहरा क्षेत्र के व्यक्ति की पहले से हालत बहुत खराब थी। साथ ही मरीज के परिजनों द्वारा मरीज का सही समय पर कोरोना चैकअप न कराए जाने से उसके शरीर का ऑक्सीजन लेवल बहुत ही कम हो गया था। विभाग के डॉक्टर ने कोविड आइसीयू में भर्ती कर उसे इलाज दिया पर हालत गंभीर होने के कारण उसकी मौत हो गई। - डॉ विजय पथौरिया, सीएमएचओ
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें