पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अव्यवस्था:नगर पालिका के आधे से अधिक कचरा वाहन खराब, कैसे सुधरे स्वच्छता सर्वेक्षण में रैंकिंग

छतरपुर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शहर के आधे वार्डों में कचरा लेने नहीं पहुंच रहा वाहन, रखरखाव के नाम पर लाखों रुपए हो रहे खर्च

नगर पालिका छतरपुर क्षेत्र में नगरीय प्रशासन द्वारा 40 वार्ड बनाए गए हैं। इन वार्डों को स्वच्छ रखने के लिए नपा द्वारा 30 चार पहिया वाहन, 8 ट्रैक्टर और 4 डंपर का उपयोग किया जाता है। इतने कम वाहनों से एक तो पूरे शहर का कचरा प्रतिदिन एकत्र नहीं किया जा सकता। ऊपर से आधे से अधिक वाहन कई दिनों से नपा परिसर में खराब पड़े हुए हैं। यदि वार्डों का कचरा ही एकत्र नहीं होगा तो स्वच्छता सर्वेक्षण में शहर का नाम कैसे आएगा। शहर में स्थित कॉलोनियों के घरों से कचरा एकत्र करने के लिए नगर पालिका छतरपुर क्षेत्र स्थित 40 वार्डों में 30 चार पहिया वाहनों का उपयोग किया जाता है। जिसमें से 10 वाहन कई दिनों से परिसर में खराब पड़े हुए हैं। इन वाहनों की कंडीशन ठीक न होने के कारण करीब 6 वाहन खराब होते रहते हैं। अब बाकी के बचे 14 वाहन शहर के 40 वार्डों में पहुंचकर प्रतिदिन कचरा कैसे एकत्र करेंगे। नपा प्रशासन द्वारा शहर के मुख्य चौराहों, तिराहों और गलियों में एकत्र कचरे को उठाने के लिए 8 ट्रैक्टर और 4 डंपरों का उपयोग किया जाता है। इन वाहनों की कंडीशन भी ठीक न होने से आए दिन एक-दो वाहन खराब होते रहते हैं। इस कारण शहर के अधिकांश वार्डों में महीनों वाहन नहीं पहुंचते और रोड पर कचरा फैला रहता है।

ई-रिक्शा वाहन सालों से पड़े खराब

देश में स्वच्छता सर्वेक्षण शुरू होन पर छतरपुर नगर पालिका प्रशासन ने शहर के वार्डों से कचरा एकत्र करने के लिए करीब 30 ई-रिक्सा वाहनों की खरीदी की। यह रिक्शा कुछ दिनों तो दिखाई दिए, इसके बाद इन्हें बंद कर दिया गया। इनमें से करीब 10 ई-रिक्सा नगर पालिका कार्यालय के पीछे स्थित गांधी आश्रम में पड़े हुए हैं। सालों से एक ही स्थान पर पड़े रहने से इनके पहिए मिट्‌टी में दब गए हैं। कुछ वाहन नपा परिसर में पड़े हुए थे, जो अब गायब हो गए हैं।

वार्डवासियों की शिकायत : कई दिनों से कचरा वाहन नहीं आया

वार्ड नंबर 23 स्थित चौबे कॉलोनी के मुन्ना तिवारी ने बताया कि पुरानी आइटीआई के पास कई दिनों से कचरा पड़ा हुआ है, जिसे उठाने के लिए नपा का वाहन नहीं आ रहा है। वार्ड नंबर 39 स्थित सीताराम कॉलोनी के राजेंद्र चौरसिया ने बताया कि करीब डेढ़ माह से कॉलोनी में कचरा वाहन नहीं आया है। इसलिए कॉलोनी के लोग खाली पड़े प्लाट में घरों से निकलने वाले कचरे को डाल रहे हैं। वार्ड नंबर 38 स्थित बालाजीपुरम कॉलोनी के धर्मेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि पिछले एक माह से कचरा वाहन कॉलोनी में न आने से लोगों ने घर से सामने स्थित प्लाट में कचरा डालना शुरू कर दिया है। जब भी हवा चलती है, यह कचरा रोड पर फैलने लगता है। इसी प्रकार राजनगर बाइपास रोड स्थित कॉलोनी में और सटई रोड स्थित छुई खदान मुहल्ले में भी कचरा वाहन नहीं पहुंच रहा है।

हां कुछ वाहन खराब हैं
शहर के वार्डों में पहुंचकर घर-घर से कचरा एकत्र करने वाले कुछ वाहन खराब हैं, इसलिए एक या दो दिन छोड़कर वाहनों को वार्ड में भेजकर कचरा एकत्र कराया जा रहा है। खराब वाहनों की मरम्मत का कार्य चल रहा है, जल्द ही ठीक हो जाएंगे।
संजेश नायक, स्वच्छता निरीक्षक

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें