पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छठ महापर्व:छठ पर्व पर महिलाओं ने सरोवरों में पहुंचकर की पूजा-अर्चना

राजनगर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महिलाओं ने छठ पर्व उपवास रखकर सरोवरों में पूजा अर्चना की। राजनगर की छठ व्रती अनीता यादव ने बताया कि उन्होंने अपने पति रोहित यादव के साथ प्रतिवर्ष की भांति छठ व्रत रखकर अपनी अन्य व्रती महिलाओं के साथ खजुराहो के सरोवर में पूजा अर्चना की।

अनीता यादव ने बताया कि कथाओं के अनुसार उक्त छठ पर्व व्रत सूर्य भगवान, ऊषा, प्रकृति, जल, वायु आदि को समर्पित है। प्रचलित मान्यता के अनुसार व्रत को करने से नि:संतान दंपत्तियों को संतान सुख प्राप्त होता है।

कहा जाता है कि यह व्रत संतान की रक्षा और उनके जीवन की खुशहाली के लिए किया जाता है। इस व्रत का फल सैकड़ों यज्ञों के फल की प्राप्ति से भी ज्यादा होता है। छठ पूजा सूर्य, उषा, प्रकृति,जल, वायु और उनकी बहन छठी म‌इया को समर्पित है ताकि उन्हें पृथ्वी पर जीवन की देवताओं को बहाल करने के लिए धन्यवाद और कुछ शुभकामनाएं देने का अनुरोध किया जाए। छठ में कोई मूर्तिपूजा शामिल नहीं है।

इनमें पवित्र स्नान, उपवास और पीने के पानी (वृत्ता) से दूर रहना, लंबे समय तक पानी में खड़ा होना और प्रसाद (प्रार्थना प्रसाद) तथा अर्घ्य देना शामिल है। परवातिन नामक मुख्य उपासक (संस्कृत पार्व से, जिसका मतलब ‘अवसर’ या ‘त्याेहार’) आमतौर पर महिलाएं होती हैं।

हालांकि, बड़ी संख्या में पुरुष भी इस उत्सव का भी पालन करते हैं क्योंकि छठ लिंग-विशिष्ट त्यौहार नहीं है। छठ महापर्व के व्रत को स्त्री - पुरुष - बुढ़े - जवान सभी लोग करते हैं। कुछ भक्त नदी के किनारों के लिए सिर के रूप में एक प्रोस्टेशन मार्च भी करते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें