5 मंजिला अस्पताल की पांच में से चार लिफ्ट खराब:एक लिफ्ट सिर्फ डॉक्टर और वीआईपी के लिए चालू, मरीजों को गोद में उठाकर पांच मंजिल चढ़ रहे हैं परिजन

छतरपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गोद में लेकर पांच मंजिल चढ़ रहे हैं परिजन  - Dainik Bhaskar
गोद में लेकर पांच मंजिल चढ़ रहे हैं परिजन 

छतरपुर जिला अस्पताल की 5 लिफ्टों में से चार लिफटें बंद पड़ी है। जिनमें से महज एक लिफ्ट ही चालू है, वह भी सिर्फ VIP और डॉक्टरों के लिए, उस लिफ्ट से मरीज उनके परिजन और आमजन को आने-जाने की मनाही है। मरीज और उनके परिजन उस लिफ्ट का उपयोग ना करलें इस बात का ध्यान रखते हुए सिक्योरिटी गार्ड लिफ्ट के पास तैनात किए गए हैं। लिफ्ट की बदहाली के कारण मरीजों के परिजन उन्हें गोद और कंधे पर उठाकर पहली, दूसरी, तीसरी, चौथी और पांचवी मंजिल तक सीढ़ियों से ले जाते हैं।

मरीजों और उनके परिजनों का कहना है कि यहां न तो स्ट्रेचर मिलते हैं न ही वार्ड बाय और लिफ्ट भी बंद पड़ी है। इससे हमे काफी परेशानी होती है। परिजनों का कहना है कि हमें खुद मरीज को गोद या फिर कंधे पर उठाकर चौथी-पांचवी मंजिल तक ले जाना पड़ता है। हमने इसकी शिकायत अस्पताल प्रशासन और जनप्रतिनिधियों से भी की है, पर किसी ने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया।

खराब लिफ्टों के सामने बैठे मरीज और उनके परिजन
खराब लिफ्टों के सामने बैठे मरीज और उनके परिजन

मामले में कलेक्टर शैलेंद्र सिंह का कहना है कि लिफ्ट और मरीजों की परेशानी मुझे पता है। हम जल्द ही लिफ्ट्स को सुधरवाएंगे।