छतरपुर में बुजुर्ग की मौत:रात में पत्नी को बता कर बजुर्ग ने खाया जहर, इलाज के दौरान मौत, बुजुर्ग की कोई संतान नहीं थी

छतरपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल में मौत - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल में मौत

जिले के कटहरा निवासी 65 वर्षीय बुजुर्ग की मिशन अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। खेती करने वाले बुुजुर्ग रम्मू विश्वकर्मा ने अज्ञात कारण से जहर का सेवन कर लिया। रात में उसने पत्नी को जहर खाने की बात बताई। जिसके बाद उसे लवकुशनगर और फिर मिशन अस्पताल लाया गया। लेकिन इलाज के दौरान मंगलवार सुबह मिशन अस्पताल में निधन हो गया। शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल लाया गया है।

जानकारी के अनुसार, रात 2 बजे उसने स्कूल में खाना बनाने का काम करने वाली 60 वर्षीय पत्नी विद्या विश्वकर्मा को जहर खाने की बात बताई। जिसके बाद उसे रात 3 बजे लवकुशनगर सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र ले गए। बुजुर्ग की बिगड़ती हालात देखते हुए डॉक्टर ने उसे छतरपुर रैफर किया। सुबह 5 बजे उसे मिशन अस्पताल लाया गया। जहां इलाज के दौरान मंगलवार सुबह 8 बजे बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। गौरतलब है कि बुजुर्ग दंपत्ति की कोई संतान नहीं है। जिसके चलते वे दुखी रहते थे। आशंका जताई जा रही है कि इसी दुख में बुजुर्ग ने आत्मघाती कदम उठाया था।

खबरें और भी हैं...