पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

चुनावी सभा:ये कोरोना मित्र नेता हैं, सोशल डिस्टेंसिंग रखना तो दूर बगैर मास्क लगाए महिला को सीएम ने गले लगा लिया

छतरपुर/बकस्वाहा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बिना मास्क लगाए महिला को गले लगाते मुख्यमंत्री
  • मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में बुंदेली बोलकर जनता को लुभाने की कोशिश की

बड़ामलहरा विधानसभा उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी प्रद्युम्न सिंह लोधी के पक्ष में माहौल बनाने और क्षेत्र वासियों से समर्थन मांगने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार दोपहर बकस्वाहा पहुंचे। यहां उन्होंने एक सभा करके क्षेत्र विकास के लिए भाजपा प्रत्याशी को बहुमत से जिताने की अपील की। 22 मिनट के भाषण में मुख्यमंत्री बीच-बीच में बुंदेली बोली के वाक्य बोलकर जनता को लुभाने की कोशिश करते नजर आए।

दोपहर 1.45 बजे मुख्यमंत्री का हैलीकॉप्टर खेल मैदान में बने हैलीपैड पर उतरा। शिवराज सिंह करीब 1 घंटे बकस्वाहा में मौजूद रहे। यहां से सुरक्षा घेरे के बीच कार से मुख्यमंत्री जनपद पंचायत मैदान में बने सभा स्थल पर पहुंचे। भाषण देने के बाद 2.41 वह बकस्वाहा से रवाना हो गए। सीएम के कार्यक्रम में बड़ी संख्या में भाजपा के समर्थक और आम लोग पहुंचे।

लेकिन इस कार्यक्रम में शासन-प्रशासन की कोरोना गाइड लाइन और हेल्थ एडवाइजरी का कहीं भी पालन होते नहीं दिखा। भीड़ में मौजूद लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान ही नहीं रखा। वहीं अधिकांश चेहरे बिना मास्क के नजर आए। कार्यक्रम के बाद लोगों को कहते सुना गया कि कोरोना के नियम क्या केवल आम जनता के लिए हैं। इन नेताओं और राजनीतिक पार्टियों के लिए नहीं हैं।

अपने करीब 25 मिनट के भाषण में मुख्यमंत्री चौहान ने बीच-बीच में बुंदेली बोली का भी खूब प्रयोग किया। उन्होंने बुंदेलखंडी में जनता से जुड़ने का प्रयास किया। उन्होंने माइक से ही जनता से कई बुंदेलखंडी में सवाल भी किए।

कमलनाथ ने मांगे पूरी नहीं की इसलिए प्रद्युम्न ने इस्तीफा दिया : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने के बाद प्रद्युम्न सिंह बड़ामलहरा, बकस्वाहा और घुवारा क्षेत्र के विकास कार्याें के लिए कमलनाथ के चक्कर लगाते रहे। वे 17 बार विकास के अलग-अलग प्रस्ताव लेकर कमलनाथ के पास गए। लेकिन मुख्यमंत्री ने एक भी विकास का कार्य स्वीकृत नहीं किया। अनसुना करते रहे इसलिए प्रद्युम्न ने कांग्रेस पार्टी के साथ विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।

कॉलेज हमने बनवाओ, आईटीआई भी हम बनवाबी : अपने भाषण के दौरान मुख्यमंत्री ने बीच-बीच में बुंदेली बोली के वाक्यों का भी इस्तेमाल करके जनता से जुड़ाव बनाने की कोशिश की। उन्होंने जनता से संवाद करते हुए कहा कि बकस्वाहा में काॅलेज हमने बनवाओ है, आईटीआई भी हम बनवाबी।

कांग्रेस ने रेत माफिया पैदा किए हैं: गोपाल भार्गव

मुख्यमंत्री से पहले पूर्व विधायक रेखा यादव, पूर्व मंत्री ललिता यादव और पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव ने भाषण दिया। मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि भाजपा जो कहती है वह करती है। हम विकास की बात करते हैं, विकास के मुद्दे पर लड़ते हैं। उन्होंने कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा कि उन्होंने रेत माफिया पैदा किए हैं। क्षेत्र में हजारों एकड़ जमीन पर कब्जा करके उत्खनन कर रहे हैं। चुनाव के बाद इसका भी निपटारा किया जाएगा।

बुजुर्ग महिला को मदद का आश्वासन दिया

जब मंच पर भाषण चल रहा था, इसी बीच ग्राम खिरिया की केशरानी आदिवासी नाम की महिला रोते हुए मंच के पास पहुंची। मुख्यमंत्री चौहान की नजर उस पर पड़ी तो उन्होंने मंच पर बुलाया और उसके रोने का कारण पूछा। महिला ने बताया कि मेरे पति की एक सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। हमें शासन से आज तक कोई सहायता नहीं मिली। इस पर मुख्यमंत्री चौहान ने बगैर मास्क लगाए महिला को गले लगाकर उसे भरोसा दिलाया कि जल्द से जल्द उसे सहायता राशि दिलवाई जाएगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें