कोरोना का कहर:बुधवार को 6 मौतें, 128 नए पॉजिटिव मरीज मिले

दमोह6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शासन ने ऑक्सीजन की सप्लाई सीमित की ऐसे में रैफर होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी, कोविड आईसीयू बंद करने की तैयारी

जिले में कोरोना का कहर जारी है। बुधवार को 6 लोगों की मौत हुईं। 128 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। इस तरह 28 दिन में 151 लोगों की मौत कोरोना से हुई है। जबकि 2379 केस पॉजिटिव आ चुके हैं। इधर जिला अस्पताल में मरीजों के इलाज को लेकर सुधार नजर नहीं आ रहा है।

लोग अभी भी ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए परेशान हो रहे हैं। बाहर से लोग व्यवस्था करके सिलेंडर लेकर अस्पताल पहुंच रहे हैं। जिला अस्पताल में शाम तक 3 लोगों की मौत हुई वहीं 3 लोगों ने ग्रामीण अंचलों में दम तोड़ा। इधर शासन ने दमोह जिले की ऑक्सीजन सप्लाई सीमित कर दी है और एक दिन में 450 सिलेंडर ही उपलब्ध कराए जा रहे हैं। ऐसे में सीमित आक्सीजन मिलने पर अब अस्पताल में भी मरीजों की संख्या सीमित की जा रही है। सबसे पहले कोविड आईसीयू को बंद करने की तैयारी चल रही है। वर्तमान में कोविड आईसीयू में केवल दो मरीज बचे हैं, बाकी पूरा वार्ड खाली कर दिया गया है। जो मरीज भर्ती थे, उन्हें रेफर किया गया है और जिनकी सेहत में सुधार हुआ है, उन्हें कोविड वार्ड में भेज दिया गया है।

इस तरह से अस्पताल में जो मरीज पहुंच रहे हैं, उनमें से ज्यादातर को डाक्टर रेफर कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि अस्पताल में अब जो मरीज पहुंच रहे हैं, ज्यादा सेहत खराब होने के बाद पहुंच रहे हैं, ऐसे में उनका इलाज करने में ऑक्सीजन की ज्यादा जरूरत पड़ रही है, लेकिन शासन ने अब सप्लाई सीमित कर दी है।

एक दिन में केवल 450 सिलेंडर आक्सीजन ही मिलेगी। इससे ज्यादा आक्सीजन नहीं दी जाएगी। जबकि कोविड आईसीयू में सबसे ज्यादा आक्सीजन की खपत हो रही थी, जिसको देखते हुए अब एक करोड़ रुपए से बना कोविड आईसीयू को बंद करने का निर्णय डाक्टरों ने लिया है।

सिविल सर्जन डॉ. ममता तिमाेरी ने बताया कि आक्सीजन की सप्लाई सीमित हो गई है। इसलिए सीमित संख्या में ही मरीज लिए जा रहे हैं। जिन मरीजों की स्थिति ज्यादा गंभीर है, उन्हें रेफर किया जा रहा है। जबकि जो मरीज सामान्य हैं, उनके लिए भर्ती किया जा रहा है। कई मरीज सेहत बिगड़ने के बाद अस्पताल पहुंच रहे हैं।

ऐसे में उनके लिए आक्सीजन की जरूरत ज्यादा होती है और आक्सीजन का स्टाक न होने से परेशानी होती है। इसलिए कोविड वार्ड को बंद करने पर काम चल रहा है।

खबरें और भी हैं...