पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Damoh
  • A Quintal Of Urad Was Taken On The Field In Batai, If The Crop Was Good, The Farm Owner Asked For 10 Quintals, The Constables Beat The Farmer To The Police Station, Ate Poison, Died

2 दिन में दूसरी बार पुलिस ने की मारपीट:एक क्विंटल उड़द के वादे के साथ बटाई पर लिया था खेत, फसल अच्छी होने पर मालिक ने 10 क्विंटल मांगी; पुलिस ने किसान को पीटा तो जहर खाकर दी जान

तेंदूखेड़ा/दमोहएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
किसान बबलू के शव को देखकर बिलखते परिजन। - Dainik Bhaskar
किसान बबलू के शव को देखकर बिलखते परिजन।

ग्राम पतलोनी में फसल कटने के बाद अनाज के लेन-देन को लेकर किसान और जमीन मालिक (व्यापारी) के बीच विवाद हो गया। मामला तेजगढ़ थाने पहुंचा तो पुलिस ने किसान की पिटाई कर दी। जिसके बाद किसान ने जहर खा लिया। घटना बुधवार शाम 5 बजे की है। पतलोनी के किसान बबलू उर्फ किशोर सिंह पिता खुमान सिंह (50) ने तेजगढ़ के व्यापारी कैलाश सिंघई का खेत बंटाई पर लिया था। फसल कटने के बाद अनाज के लेन-देन को लेकर जमीन मालिक से बबलू का विवाद हो गया। खेत मालिक बबलू से 10 क्विंटल उड़द मांग रहा था जबकि बटाई के समय केवल 1 क्विंटल उड़द का ठेका हुआ था।

इसकी शिकायत लेकर दोनों तेजगढ़ थाने पहुंच गए। थाने में आरक्षकों ने बबलू से मारपीट कर दी। जिस कारण बबलू ने जहर खा लिया। उसे तेंदूखेड़ा अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन गंभीर हालत होने के कारण डॉक्टर ने मेडिकल काॅलेज जबलपुर रैफर कर दिया। जबलपुर ले जाने के पहले ही बुधवार रात बबलू की मौत हो गई।

गुरुवार सुबह पोस्टमार्टम के बाद परिजन शव लेकर तेजगढ़ पहुंचे। परिजन ने दोपहर 12 बजे बस स्टैंड के पास शव सड़क पर रखकर चक्काजाम कर दिया। परिजन ने तेजगढ़ पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। सूचना मिलने पर एडिशनल एसपी शिवकुमार सिंह मौके पर पहुंचे और आक्रोशित परिजन को दोषी आरक्षकों को निलंबित करने और व्यापारी पर कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया।

इस संबंध में एएसपी सिंह ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामले में आरक्षक रवि सेन को लाइन अटैच कर दिया है। मामले की जांच की जा रही है, जो भी दोषी पाए जाएंगे, कार्रवाई की जाएगी।

पत्नी का आरोप- खेत मालिक के कहने पर ही पुलिस ने पीटा

किसान किशोर सिंह उर्फ बबलू लोधी की पत्नी ललिता बाई द्वारा पुलिस से की गई शिकायत के अनुसार बबलू लोधी पिछले 6-7 साल से खेत मालिक व व्यापारी कैलाश सिंघई की पौने 2 एकड़ जमीन ठेके पर लिए था। इस साल गर्मी में उसने उड़द की फसल के लिए कैलाश से ठेके पर जमीन ली थी, जिसमें एक क्विंटल उड़द देने का ठेका हुआ था।

इसके बाद जब 20 क्विंटल उड़द की पैदावार हुई तो कैलाश ने बबलू से कहा कि हमें अब आधी फसल यानि 10 क्विंटल चाहिए, क्योंकि फसल अच्छी हुई है। बबलू ने कैलाश से कहा कि वह आधी उपज नहीं देगा और जो ठेके पर बात हुई थी, उसी के अनुसार केवल एक क्विंटल उड़द देगा। इसी को लेकर दोनों में विवाद हुआ।

पत्नी का आरोप है कि कैलाश ने बबलू से खेत पर भी मारपीट की थी, जिसको लेकर बबलू बुधवार को पुलिस थाना में शिकायत लेकर पहुंचा था लेकिन पुलिस ने कहा कि खेती का मामला है आप दोनों आपस में बात कर लो। बाद में खेत मालिक कैलाश के कहने पर ही पुलिस ने बबलू से थाने में मारपीट की। जिसकी वजह से उसने अपनी जान दे दी। मृतक बबलू के परिजन ने आरोप लगाया कि इस मामले में थाना प्रभारी ने ₹5000 रुपए की रिश्वत और एक ट्रॉली रेत की मांग की थी।