पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रशासन ने शिकंजा कसा:बाबा के दरबार में शराब वितरण पर प्रशासन ने लगाई रोक, अधिकारियों ने पहुंचकर दी समझाइश

दमोह4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हटा| बाबा को समझाइश देती स्वास्थ्य विभाग की टीम व पुलिस। - Dainik Bhaskar
हटा| बाबा को समझाइश देती स्वास्थ्य विभाग की टीम व पुलिस।
  • इलाज के नाम पर एक पाव शराब ली जा रही थी, दैनिक भास्कर ने प्रमुखता से उठाया था मुद्दा

एक पाव शराब लेकर इलाज का दावा करने वाले कथित बाबा के दरबार पर प्रशासन ने शिकंजा कसा है। नारायणपुरा पंचायत के मनकपुरा गांव में लगने वाले दरबार में स्वास्थ्य विभाग की टीम व पुलिस ने पहुंचकर शराब प्रसाद वितरण प्रकिया पर रोक लगाने की बात कही। दरबार के दौरान स्वास्थ विभाग से बीएमओ डाॅ. पीडी करगैया, डॉ. उमा शंकर पटेल, सौरभ जैन, बीएल तंतुवाय व रजपुरा थाना प्रभारी दशरथ प्रसाद दुबे पहुंचे। टीम ने शराब एकत्रित करना, शराब का प्रसाद वितरण आदि को लेकर रोक लगाने की बात कही। दरअसल मनकपुरा में रूपसिंह नाम का युवक दरबार लगाता है। जो प्रसाद में एक पांव शराब लेकर कई रोगों का इलाज करने का दावा किया करता है।

दरबार के दौरान युवक कथित पंडा लोगों को रोग, दुख, तकलीफ से निजात दिलाने के बाद भैरवनाथ और कालेश्वर का जयकारा लगाकर एक कप शराब का सेवन करता था। बाद में सारी शराब भक्तों में प्रसाद के रूप बांटी जाती थी। थाना प्रभारी रजपुरा दशरथ प्रसाद दुबे ने बताया की प्रसाद में शराब वितरण पर रोक लगाई गई है। बाकी लोगों की आस्था है ताे वह पूजा पाठ करने जा सकते हैं यह छूट दी गई है।

ढोंगी बाबा के दरबार को लेकर भास्कर ने मुद्दा उठाया था। इस संबंध में 6 जनवरी के अंक में बाबा का दावा... मैं भैरव का अंश हूं, शराब का प्रसाद चढ़ाओ, हर रोग से मुक्ति मिलेगी शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। जिसके बाद अधिकारियों ने इस मामले में कार्रवाई का आश्वासन दिया था। मंगलवार को अफसरों ने पहुंचकर बाबा के दरबार में शराब के वितरण पर रोक लगा दी गई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser