पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उपचुनाव:दमोह विधानसभा सीट; बीजेपी अंर्तकलह में उलझी तो कांग्रेस में प्रत्याशी के लिए 31 चेहरे

दमोह19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दमाेह। शहर दमाेह में विधानसभा उपचुनाव हाेना है। - Dainik Bhaskar
दमाेह। शहर दमाेह में विधानसभा उपचुनाव हाेना है।
  • अब तक पूर्व मंत्री मलैया और राहुल सिंह एक मंच पर नजर नहीं आए, दोनों के बीच में दूरी बरकरार
  • कांग्रेस के पर्यवेक्षक तीन चक्कर लगा चुके, मगर तलाश अब तक पूरी नहीं

कांग्रेस विधायक राहुल सिंह द्वारा इस्तीफा देने के बाद अब दमोह विधानसभा सीट पर दो से तीन माह के अंदर उपचुनाव होना है। कांग्रेस और बीजेपी ने रायशुमारी से लेकर दांवपेंच के लिए जिम्मेदारियां तक सौंप दी गईं हैं, लेकिन बीजेपी और कांग्रेस दोनों में प्रत्याशी काे लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है।

कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी में आए राहुल सिंह और पार्टी के दिग्गज नेता जयंत मलैया के बीच में अब तक समांजस्य नहीं बन पाया है। अधिकारिक रूप से दोनों एक मंच पर अब तक नहीं आए हैं, ऐसे में राहुल सिंह के लिए जयंत मलैया की चुप्पी किसी बड़े संकट का संकेत दे रही है। मौके की नजाकत को देखते हुए राहुल सिंह बीजेपी के नेताओं को मनाने में लगे हैं, वे नेताओं के घर-घर जा रहे हैं, जबकि जयंत मलैया बीच-बीच में सक्रिय हो जाते हैं और विधानसभा क्षेत्र में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं।

नेताओं ने दमोह में बैठकें लेना चालू कर दिया
उनके बेटे सिद्धार्थ मलैया और नीशु मलैया भी क्षेत्र में सक्रिय हैं। ऐसे में उपचुनाव में क्या समीकरण बन रहा है, कुछ अभी समझ नहीं आ रहा है। मगर इतना तय लग रहा है कि वर्तमान हालात में बीजेपी के अंदर कुछ ठीक नहीं चल रहा है। दोनों गुट अलग-अलग दिशा में भाग रहे हैं और बीच की खाई बढ़ती जा रही है। इधर कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव और नगरीय निकाय चुनाव की तैयारी भी शुरु कर दी है। पार्टी ने बरगी विधायक संजय यादव और नीलेश अवस्थी को यहां का पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। इन दोनों ने नेताओं ने दमोह में बैठकें लेना चालू कर दी हैं।

पिछले 15 दिन में तीन बार से ज्यादा यह पदाधिकारी दमोह आकर पदाधिकारियों से लेकर कार्यकर्ताओं तक की बैठक करके नब्ज टटोल चुके हैं, मगर कुछ खास हाथ नहीं लगा है। जिस तरह बीजेपी में राहुल सिंह और जयंत मलैया के बीच में टिकट को लेकर पेंच फंसा है, उसी तरह की स्थिति कांग्रेस की बनी हुई है। कांग्रेस में बीजेपी की टक्कर का प्रत्याशी खड़ा करने के लिए पर्यवेक्षक वह चेहरा नहीं तलाश पाए हैं जो मैदान में उतारा जा सके। बीजेपी की जीत की राह तो रोड़ों में बदल दे। फिलहाल में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अजय टंडन पर सभी की निगाहें आकर टिक रही हैं।

इसके बाद मनु मिश्रा, मानक पटेल सहित 31 लोगों की लंबी संभावित प्रत्याशियों की फेहरिस्त है, मगर इनमें भी आपसी खींचतान को लेकर समीकरण बनते नजर नहीं आ रहे हैं। ऐसे में एक से डेढ़ माह के बाद भी कांग्रेस के अंदर प्रत्याशी को लेकर टोटा बना हुआ है, किसी एक व्यक्ति पर दिल्ली, भोपाल और दमोह तक पदाधिकारियों की सहमति नहीं बन पाई है। जबकि भाजपा की तरफ से मंत्री भूपेंद्र सिंह और गोपाल भार्गव के पास दमोह की जिम्मेदारी है।

दोनों के हाथ में दमोह का दारोमदार है। इन सबके बीच अंदररूनी चर्चा यह है कि बीजेपी से राहुल सिंह का टिकट तय माना जा रहा है, लेकिन जयंत मलैया यदि एक मंच पर नहीं आ रहे हैं, तो राहुल सिंह राह आसान नहीं होगी। जिस तरह से मलैया खेमा सक्रिय हैं, उसे देखकर विधानसभा में चुनाव की परिस्थितियां विपरीत नजर आ रही हैं। गौरतलब है कि दमोह के विधायक रहे राहुल लोधी ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया । वर्ष 2018 में राहुल सिंह ने ही मलैया को शिकस्त दी थी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

    और पढ़ें