आयोजन:जरारुधाम में दीपावली मिलन और अन्नकूट कार्यक्रम, युवाओं के बधाई नृत्य ने बांधा समां

दमोह24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना अभी गया नहीं, इससे लड़ने टीके के दोनों डोज जरूर लगवाएं- राज्यमंत्री

अन्नकूट का यह कार्यक्रम जरारुधाम का सार्वजनिक कार्यक्रम है। सभी लोग मिलकर इसे अपने ढंग से करते हैं। अन्नकूट का उत्सव पुरातन परंपरा है। इसमें निमंत्रण किसी को नहीं जाता, सा-आनंद आकर लोग इसमें हिस्सेदार बनते हैं। भाईदूज के दिन नियमित तौर पर अन्नकूट की यह परंपरा जरारुधाम की है। जरारुधाम की इस पुण्यभूमि में यह कार्यक्रम उत्सव का रूप लेते जा रहा है।

यह बात केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग एवं जल शक्ति राज्यमंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने बटियागढ़ के ग्राम मगरोन के जरारुधाम में दीपावली मिलन और अन्नकूट कार्यक्रम के दौरान कही। उन्होंने कहा हम संकल्पित हैं कि यहां पर किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करते, यह व्यवस्था सब मिलकर चला रहे हैं। सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले बच्चों का उत्साह वर्धन करते हुए उन्होंने कहा यह बच्चे होनहार हैं, एक साल के भीतर उन्होंने अपने आपको सांस्कृतिक कला में तैयार करके यहां तक पहुंचाया।

इस मौके पर कलाकारों द्वारा बधाई नृत्य के साथ अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए, जिसकी आमजनों ने सराहना की। इस मौके पर मंत्री की पत्नी पुष्पलता पटेल, पुत्री प्रतिज्ञा पटेल एवं पुत्र प्रबल पटेल, मप्र वेयर हाऊस कार्पोरेशन एवं लाजिस्टिक अध्यक्ष राहुल सिंह लोधी, नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष प्रदुम्न सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रीतम सिंह लोधी, जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल, विधायक हटा पीएल तंतुवाय, विधायक जबेरा धर्मेंद्र सिंह लोधी, लखन पटेल, डाॅ. आलोक गोस्वामी, नरेंद्र व्यास, बिहारी लाल गौतम, रूपेश सेन, गोपाल पटेल, नरेंद्र दुबे, मालती आसाटी, रामकली तंतुवाय, नर्मदा एकता सिंह, वर्षा रैकवार, मोंटी रैकवार, संजय यादव, कैलाश शैलार, डाॅ. केदार नाथ शर्मा, अनुराग वर्धन हजारी, सहित ग्रामीणजन मौजूद रहे।

मगरोन उप स्वास्थ्य केंद्र का लिया जायजा
राज्यमंत्री मगरोन उप-स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। यहां चल रहे टीकाकरण अभियान का जायजा लिया और शामिल टीकाकरण करा रहे लोगों का उत्साहवर्धन किया। साथ ही लोगों से टीका लगवाने का आव्हान किया। उन्होंने कहा कोरोना अभी गया नहीं, इससे लड़ने के लिए हम सभी को टीके के दोनों डोज जरूर लगवाना हैं।

खबरें और भी हैं...