पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना इफेक्ट:जागेश्वरधाम बांदकपुर में पहली बार भगवान के साथ भक्त नहीं खेल पाएंगे फूलों की होली

दमोहएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • वर्षों पुरानी होली की अनोखी परंपरा के दर्शन इस बार नहीं होंगे
  • भक्तों का दिया हुआ रंग गुलाल फूल पुजारी ही शिव पिंडी पर चढ़ाएंगे

बुंदेलखंड के प्रसिद्ध तीर्थ क्षेत्र देवश्री जागेश्वरनाथ धाम बांदकपुर में परमा के दिन भगवान के संग खेली जाने वाली फूलों की होली की परंपरा इस बार टूट जाएगी। कोरोना की वजह से इस बार मंदिर के गर्भगृह में भक्तों का प्रवेश निषेध है। जिसकी वजह से हर साल की तरह मनाया जाने वाला होली का पर्व इस बार नहीं हो पाएगा।

गौरतलब है कि परमा धुरेड़ी के दिन छुट्‌टी व पर्व विशेष दिन होने की वजह से दमोह के अलावा बुंदेलखंड के गांव-गांव से श्रद्धालु बांदकपुर धाम पहुंचते हैं और भगवान जागेश्वरनाथ के साथ फूलों की होली खेलते हैं। लेकिन इस बार प्रशासन की गाइडलाइन की वजह से होली का पर्व फीका ही रहेगा। लोग दूर से ही भगवान के दर्शन कर सकेंगे और रंग, गुलाल, फूल पुजारी को देकर ही शिव पिंडी पर अर्पित किए जाएंगे।

हालांकि मंदिर ट्रस्ट द्वारा रंगोत्सव का पर्व रंगपंचमी को मनाया जाता है। लेकिन श्रद्धालुओं द्वारा होली उत्सव होलिका दहन की रात से ही शुरू हो जाता है। जो रंगपंचमी तक चलता है। जिसमें क्षेत्र भर की फागों की टोलियां को मंदिर ट्रस्ट द्वारा निमंत्रण भेजा जाता और मंदिर के रंगोत्सव में शामिल होने पर गुलाल लगाकर स्वागत किया जाता है।

मंदिर ट्रस्ट के प्रवंधक रामकृपाल पाठक ने बताया कि ट्रस्ट के द्वारा होलिका दहन कार्यक्रम मंदिर के पीछे प्रतिवर्षानुसार होता है। और यह आज भी होगा। जहां तक परमा धुरेड़ी पर्व फूलों की होंली की परंपरा की बात है। वह शासन की गाइड लाइन के अनुसार ही होगी। भक्त भगवान के दर्शन कर सकेंगे। बीते साल की तरह इस बार भक्तजन गर्भगृह में प्रवेश नहीं कर सकेंगे। हालांकि पुजारियों द्वारा प्राचीन परंपराओं का निर्वहन किया जाएगा। रंगपंचमी के दिन भगवान को नए वस्त्र पूजन के साथ रंगों की होली खेली खेली जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें