कलेक्टर, एसपी को आवेदन देकर जांच कराने की मांग की:रोजगार सहायक, सचिव ने फर्जी दस्तावेज बनाकर करीबियों को लाभ दिलाया

दमोहएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्राम पंचायत सागौनी ब्लाॅक पटेरा में रोजगार सहायक प्रमोद झारिया एवं सचिव ओंकार दुबे द्वारा फर्जी तरीके से दस्तावेज बनाकर अपने करीबी लोगों को शासकीय रिकार्ड में हेराफेरी कर लाभान्वित किया जा रहा है। जिसकी शिकायत भगवती मानव कल्याण संगठन के सदस्यों ने कलेक्टर एवं एसपी को आवेदन देकर की गई है।

आवेदन में कहा कि रोजगार सहायक के पिता कल्लू उर्फ परसोत्तम एवं जिम्मू उर्फ जीवनलाल एक ही व्यक्ति के नाम है, राजस्व अभिलेखों में परसोत्तम पिता जिम्मू के नाम से करीब 18 एकड़ से अधिक सिंचित भूमि है, नाम की हेराफेरी कर गरीबी रेखा बीपीएल कार्ड बनाकर शासन की अनेक योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। पूर्व में भी गांव वालों द्वारा फर्जीवाड़ा एवं घोटालाें की शिकायत की थी, जिसकी जांच भी हुई और जांच में शिकायतें सही भी पाई गईं थी। शिकायत में बताया कि निर्माण कार्यों में गुणवत्ता की अनदेखी की गई। मामले में कार्रवाई की मांग की है।

खबरें और भी हैं...