पर्यावरण को खतरा / सर्रा वनपरिक्षेत्र में सागौन के पेड़ों की कटाई, अब ठूंठ ही ठूंठ आ रहे नजर

Harvesting of teak trees in Sarra Forest Range, now stumps are seen
X
Harvesting of teak trees in Sarra Forest Range, now stumps are seen

  • नौरादेही अभयारण्य में लगे सागौन के पेड़ों का अस्तित्व खतरे में

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 08:01 AM IST

दमोह. नौरादेही अभयारण्य में लगे सागौन के पेड़ों का अस्तित्व खतरे में पड़ गया है। क्षेत्र के सर्रा वन परिक्षेत्र में लगी बेशकीमती सागौन की अवैध कटाई जोरों पर चल रही है। ऐसा होने से मौजूद वन्यजीवों और वृक्षों का अस्तित्व खतरे में नजर आ रहा है। यहां तक कि सर्रा वन परिक्षेत्र में पदस्थ कुछ कर्मचारियों द्वारा तो प्रकरण दर्ज न करने के नाम पर रकम ऐंठने का काम किया जा रहा है। सूत्रों द्वारा प्राप्त जानकारी अनुसार सर्रा परिक्षेत्र में आने वाली सारसबगली, कोटखेड़ा, ग्वारी, दुधिया, तिदनी बीटों में इन दिनों अवैध कटाई हो रही है। वन माफिया द्वारा विभागीय के अमले की मिलीभगत से बेखौफ होकर सैकड़ों पेड़ों की बलि दी जा रही है।

लॉकडाउन में प्रतिदिन हो रही कटाई
नौरादेही अभयारण्य अंतर्गत आने वाले सर्रा वन परिक्षेत्र में वन माफिया द्वारा लॉकडाउन का फायदा उठाकर रात के अंधेरे में सागौन के वृक्षों को काटा जा रहा है। इस परिक्षेत्र में गांव के कुछ लोगों द्वारा भी वृक्षों को काटकर बाइक से रात के अंधेरे में परिवहन किया जाता है।

बाघों की मौजूदगी भी नहीं आ रही काम
नौरादेही अभयारण्य में इन दिनों बाघ-बाघिन और शावक भी खुले में घूम रहे हैं, जब इन बाघों को लाया जा रहा था उस दौरान डीएफओ, सीसीएफ यह बात कह रहे थे कि बाघों की मौजूदगी का असर अवैध कटाई की रोकथाम में होगा, लेकिन ऐसा नहीं होना सामने आ रहा है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना