पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आरोप:बिजली कंपनी में ठेकेदारी में अनियमितता, मजदूरों का हो रहा शोषण

दमोह9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भारतीय मजदूर संघ ने कार्रवाई की मांग को लेकर कलेक्टर को आवेदन दिया

भारतीय मजदूर संघ जिला दमोह द्वारा एक आवेदन कलेक्टर को दिया। इस मौके पर विभाग प्रमुख धर्मेंद्र चौबे ने बताया कि दमोह में मेमर्स ओरिन प्राइवेट लिमिटेड कंपनी द्वारा जिले में बिना अनुज्ञप्ति मनमाने, अनियमित तरीके से बिजली विभाग में ठेकेदारी का कार्य किया जा रहा है। कार्यरत श्रमिकों को न्यूनतम वेतन से कम भुगतान एवं अनेक अनियमितताओं से संबंधित शिकायत प्राप्त हो रही हैं।

साथ ही भर्ती के नाम पर अवैध वसूली से संबंधित शिकायत श्रमिकों द्वारा विभाग संबंधित के समक्ष प्रस्तुत की गई थी। ठेकेदार जिले में लगभग 600 कर्मचारियों के माध्यम से अधीक्षण यंत्री, विद्युत मंडल दमोह के कार्यालय में नियमानुसार श्रम विभाग के बिना अनुज्ञप्ति प्राप्त किए कार्य हुए हैं। जिसके कारण कार्यरत श्रमिकों एवं कर्मचारियों का भविष्य अधर में लटका हुआ है। यदि किसी कर्मचारी के साथ कोई दुर्घटना हो जाती है तो उसके लिए कौन जवाबदार रहेगा।

शिकायत करने वाले कर्मचारियों को कभी भी कार्य से अलग कर दिए जाने की जानकारी है। विभिन्न श्रम अधिनियमों के अंतर्गत नियमानुसार जांच कराते हुए श्रमिकों को शासन के अनुरूप वेतन एवं अन्य सुविधाओं का लाभ प्रदान किया जाए। बिजली कंपनी के विरुद्ध उचित कार्यवाही की जाए। कंपनी को किए जाने वाले भुगतान पर तुरंत रोक लगा दी जाए। इनका अनुबंध निरस्त करने सहित अन्य मांग को लेकर आवेदन दिया है।

खबरें और भी हैं...