पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अनदेखी:उप स्वास्थ्य केंद्र खंडहर में तब्दील, दस किमी दूर इलाज कराने जाते हैं मरीज

कुम्हारीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूर्व में 20 से अधिक गांव के लोग आते थे इलाज कराने, अब बंद पड़ा
  • 20 से ज्यादा गांव के लोग आते थे इलाज कराने

(पवन राय) पटेरा जनपद के ग्राम पंचायत पटेरिया का उपस्वास्थ्य केंद्र 40 साल से अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा है। पूर्व में इस स्वास्थ्य केंद्र के आसपास 20 से अधिक गांव के लोग इलाज कराने आते थे। लेकिन अधिकारियों की अनदेखी के चलते कुछ साल बाद इस स्वास्थ्य केंद्र को बंद कर कुम्हारी में खोल दिया गया।
जिससे पटेरिया में संचालित उपस्वास्थ्य केंद्र देखरेख के अभाव में खंडहर में तब्दील हो गया है। दूसरी ओर इस क्षेत्र के ग्रामीणों को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। एक तरफ कोरोना महामारी चल रही है जिससे लेकर स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट किया गया है। जबकि पटेरिया उपस्वास्थ्य के हालात सामने हैं। क्षेत्र के यशवंत सेन, सुधीर राय, किशोरी राय, अरुण नामदेव, चंदन नामदेव, विकास राय, पुष्पेंद्र राय ने बताया कि पटेरिया गांव में जब से स्वास्थ्य केंद्र बंद हुआ है तभी से इसकी बिल्डिंग पर शासन ने कोई ध्यान नहीं दिया। जिससे लाखों रुपए की लागत से बनी बिल्डिंग देखते ही देखते इतनी जर्जर हो गई है वह कभी भी गिर सकती है। महिला प्रेमबाई, उजयारी बाई, नन्नीबाई आदिवासी ने बताया कि बीमारी के समय तो मरीज जैसे तैसे निजी डॉक्टर या पटेरा, दमोह जाकर दिखवा लेते हैं लेकिन प्रसव पीड़ित महिलाओं को उपस्वास्थ्य केंद्र न होने से काफी परेशानी होती है। क्योंकि पटेरिया से कुम्हारी उपस्वास्थ्य केंद्र 10 किमी दूर है। इसके साथ ही पटेरिया के आसपास के गांव से कुम्हारी की दूरी भी 15 से 20 किमी है।
ऐसी स्थिति में जब तक जननी वाहन महिला को लेकर अस्पताल पहुंचता है तब तक या तो रास्ते में ही महिला की डिलेवरी हो जाती है या फिर घर में ही प्रसव हो जाता है। जिससे महिलाओं की जान पर बन आती है।
कई बार उठा चुके मांग
मुकेश, रंजीत, जयंत, राजू, पवन अग्रवाल, पप्पू, ने बताया कि हर बार चुनाव के समय जनप्रतिनिधि पटेरिया में उपस्वास्थ्य केंद्र फिर से शुरू कराने का आश्वासन देकर जाते हैं। लेकिन तीन दशक बीतने के बावजूद भी यहां पर खोला गया अस्पताल फिर से शुरू नहीं हो पाया। जिससे पूरे क्षेत्र की जनता में अधिकारी व जनप्रतिनिधियों के प्रति भारी आक्रोश व्याप्त है। हल्ली बाई, रूकमन बाई ने बताया कि एक ओर शासन गांव-गांव में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ा रहा है, दूसरी ओर दो दर्जन गांव का मुख्य केंद्र बिंदू पटेरिया में सुविधाएं बढ़ाने की जगह कम कर रही है। क्षेत्रवासी कई बार उपस्वास्थ्य केंद्र चालू कराने की मांग उठा चुके हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थितियां आपके पक्ष में है। अधिकतर काम मन मुताबिक तरीके से संपन्न होते जाएंगे। किसी प्रिय मित्र से मुलाकात खुशी व ताजगी प्रदान करेगी। पारिवारिक सुख सुविधा संबंधी वस्तुओं के लिए शॉपिंग में ...

और पढ़ें