फर्जीवाड़ा / प्लांटेशन में फर्जी मजदूरों के नाम पर निकाली जा रही राशि, जिन्होंने काम किया उन्हें नहीं मिली मजदूरी

X

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 08:04 AM IST

तेंदूखेड़ा. वनविभाग के अधिकारी और कर्मचारी नए प्लांटेशन लगाने में फर्जी मजदूरों के नाम से लाखों रुपए निकाल रहे हैं। वहीं जहां पर मजदूरों ने दिन भर दो माह श्रमकर नए पौधे लगाए हैं, निदाई की है उन्हें डेढ़ साल बाद भी उनकी मजदूरी नहीं दी जा रही है। 

ऐसा ही मामला तेंदूखेड़ा रेंज के तहत ग्राम खकरिया के आरएफ क्रमाक 209 में सामने आया है। यहां पर वर्ष 2018-19 में मिश्रित पौधा रोपण के द्वितीय वर्ष में मजदूरों द्वारा निदाई का कार्य किया था, इसके अलावा मृत पौधों के स्थान पर 25 हजार पौधों लगाए गए थे। तीन हजार नए गड्ढे खोदकर नए पौधों का रोपण किया था। लेकिन मजदूरों को उनकी आज तक मजदूरी नहीं मिली है। मजदूरों ने इसकी शिकायत डीएफओ दमोह से की है। दमोह डीएफओ को दिए गए आवेदन में मजदूर अखलेश, अमित, जगदीश सिंह, लखन, हल्लेभाई, मुकेश, जग्गी, सुनील, शंभूलाल आदि मजदूरों ने कहा कि कक्ष क्रमाक आरएफ 209 में डेढ़ साल पहले जुलाई-अगस्त माह में निदाई, नए पौधों का रोपण किया था। जिसकी मजदूरी आज तक हम लोगों को नहीं दी गई है। जिला पंचायत उपाध्यक्ष कौशल्या मेमार का कहना है कि मजदूरों को मजदूरी नहीं मिलने पर मैंने डीएफओ दमोह से बात की थी, लेकिन इस पर भी आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।  

इस मामले में वनविभाग के एसडीओ अमित सिंह का कहना है कि इसकी जानकारी रेंजर दे सकते हैं। वहां पर कुछ गड़बड़ियां हुई थीं तो पिछले माह दो वीटगार्ड को निलंबित किया था। मजदूरी नहीं मिलने का क्या कारण है मुझे जानकारी नहीं है। वहीं तेंदूखेड़ा रेंजर कृष्णा वर्मा का कहना है कि मजदूरी दे दी गई है। डीएफओ को दी गई शिकायत पर कहा कि मुझे याद नहीं है। देखकर ही बता पाऊंगीं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना