पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वारदात:सड़क किनारे खड़े 3 लोडिंग वाहनों के पहिए चोरी, बैटरी भी निकाल ले गए

दमोह12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोतवाली थाना क्षेत्र के राजीव गांधी काॅलोनी की घटना

शहर में ठंड के साथ साथ चोरी की वारदातें भी बढ़ना शुरू हो गई। घरों दुकानों में चोरी के बाद अब चोरों ने सड़क किनारे खड़े वाहनों में से सामग्री चुराना शुरू कर दी है। आश्चर्य की बात है कि वाहनों के पहिए भी चोर खोलकर ले गए। और न तो पुलिस को जानकारी लगी न ही वाहन मालिकों को भनक लगी। चाेर रात 12 बजे से 3 बजे के बीच वाहनों को निशाना बना रहे हैं।

ताजा मामला कोतवाली थाना क्षेत्र के राजीव गांधी कालोनी जाने वाले मार्ग के सामने किल्लाई नाका के समीप सामने आया है। जहां बीती रात एक लोडिंग वाहन का पहिया चोरी हो गया। इसके पहले दो और वाहनों के पहिए चोरी हो गए थे एक माल वाहक की बैटरी चोर चुराकर ले गए थे। ये सभी वाहन सड़क किनारे खड़े थे।

वाहन मालिक दीपक जैन ने बताया कि राजीव गांधी कालोनी जाने वाले मार्ग पर सड़क किनारे उनकी दीपक ट्रेडर्स के नाम से सीमेंट आदि की दुकान हैं माल वाहक से सामग्री भेजते हैं मंगलवार की रात वाहन को दुकान के पास सड़क किनारे खड़ा किया था रात 12 बजे तक तक वाहन सुरक्षित था इसके बाद चोर एक पहिया निकालकर ले गए हैं। उन्होंने बताया इसके अलावा सामने वाली सिंघानियां मार्केटिंग के माल वाहक की बैटरी चोरी हुई है। इसके पहले सचिन के वाहन का भी एक पहिया निकला है। कुछ दिन पहले एक अन्य वाहन का पहिया चाेरी गया है। चोरी की सूचना पुलिस को दी गई है। पुलिस ने मामला जांच में लिया है।

पुलिस गश्त पर उठाए जा रहे सवाल: वाहन मालिकों द्वारा रात्रि में पुलिस गश्त पर सवाल उठाए जा रहे हैं। वाहन मालिकों की माने तो किल्लाई नाका चौराहा पर ही डायल 100 का प्वाइंट है और वाहन खड़ा रहता है। रात्रि में पुलिस गश्त भी करती है बावजूद चोरी हो रही हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser