पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Hata
  • 22 Members Of GST Raid On Tractor Parts Agency In Hata, 6 hour Investigation, Caught Tax Of Rs 62 Lakh 50 Thousand

ट्रैक्टर पार्ट्स एजेंसी पर जीएसटी टीम की छापामारी:हटा में ट्रैक्टर पार्ट्स एजेंसी पर जीएसटी का छापाटीम के 22 सदस्यों ने 6 घंटे की छानबीन, 62 लाख 50 हजार रुपए के टैक्स की चाेरी पकड़ी

हटा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • व्यापारी ने चोरी स्वीकारी और तुरंत ऑनलाइन राशि भी जमा कर दी

सतना के जीएसटी विभाग की 22 सदस्यीय टीम ने हटा के बजरंग ट्रैक्टर पार्ट्स एजेंसी पर दोपहर 12 बजे छापा मारा। शाम 6 बजे तक चली कार्रवाई के दौरान अधिकारियों ने एजेंसी पर करीब 62 लाख रुपए की टैक्स चोरी पकड़ी।छानबीन के दौरान टीम के पास कोई जा नहीं पाया।

कार्रवाई पूरी करने के बाद अधिकारियों ने विस्तृत जानकारी दी। इससे पहले 6 वाहनों में दमोह, सागर आदि स्थानों से जीएसटी व वाणिज्य कर विभाग के 22 सदस्यीय दल एमएलबी स्कूल के सामने स्थित एजेंसी पर पहुंचा और दुकान, गोदाम अपने कब्जे में लेकर खरीद बिक्री के दस्तावेज एवं स्टॉक की जांच चालू कर दी। इस बीच एजेंसी मालिक अमित अग्रवाल और पप्पी अग्रवाल ने अधिकारियों को स्टाक और बिक्री से जुड़े दस्तावेज उपलब्ध कराए।

जांच में भौतिक गड़बड़ी मिली : भौतिक जांच में गड़बड़ी पाई गई है। दुकानदार द्वारा स्टॉक को छुपाकर रिटर्न भरा गया है, टैक्स जमा करने में गड़बड़ी की जा रही थी। प्रथम दृष्टया 62 लाख 50 हजार रुपए धारा 74 के अंतर्गत जमा कराए गए हैं। 90 दिन का समय दुकानदार को अपना पक्ष रखने के लिए दिया जाएगा।

जो स्टॉक मिला है उसके टैक्स की गणना करके मांग पत्र जारी किया जाएगा। टैक्स की राशि जमा होने के कारण स्टॉक जब्त नहीं किया गया है। दस्तावेज एकत्रित किए गए हैं, इनकी जांच की जाएगी। अधिकारियों के दल में राज्य वाणिज्य कर अधिकारी एमके साकेत, नवीन दुबे, विजय पांडेय, विकास अग्रवाल सहित अनेक अधिकारी मौजूद थे।प्रस्तुत आंकड़ों में विसंगति के कारण की कार्रवाईप्रारंभिक जांच में टीम ने धारा 74 के अंतर्गत 62 लाख 50 हजार रुपए की जीएसटी की चोरी पकड़ी। अधिकारियों ने एजेंसी संचालक के सामने अपनी स्थिति रखी।

उन्होंने बताया कि अभी तुरंत ऑनलाइन राशि जमा करने पर ही मोहलत मिल सकती है, नहीं तो अगली कार्रवाई होगी। जिस पर एजेंसी संचालकों ने तुरंत 62 लाख 50 हजार रुपए की राशि ऑनलाइन जमा कर दी। जीएसटी टीम के प्रभारी अधिकारी अमित पटेल ने बताया कि बजरंग ट्रैक्टर पार्ट्स द्वारा जो ऑनलाइन रिटर्न्स प्रस्तुत किए जा रहे थे, उसमें प्रस्तुत आंकड़ों में विसंगति के कारण ही जीएसटी की धारा 67(2) के अंतर्गत सर्च एवं जब्ती की कार्रवाई की गई है।जमा करने में गड़बड़ी की जा रही थी।

प्रथम दृष्टया 62 लाख 50 हजार रुपए धारा 74 के अंतर्गत जमा कराए गए हैं। 90 दिन का समय दुकानदार को अपना पक्ष रखने के लिए दिया जाएगा।

जो स्टॉक मिला है उसके टैक्स की गणना करके मांग पत्र जारी किया जाएगा। टैक्स की राशि जमा होने के कारण स्टॉक जब्त नहीं किया गया है। दस्तावेज एकत्रित किए गए हैं, इनकी जांच की जाएगी। अधिकारियों के दल में राज्य वाणिज्य कर अधिकारी एमके साकेत, नवीन दुबे, विजय पांडेय, विकास अग्रवाल सहित अनेक अधिकारी मौजूद थे।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें