पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उन्नति का रंग:कृषि उपकरण फैक्ट्रियाें में उत्पादन बढ़ा, सालाना टर्नओवर 500 कराेड़ रुपए तक

खुरई2 महीने पहलेलेखक: हेमंत जैन 
  • कॉपी लिंक
  • 50 साल में खुरई में कृषि उपकरण बनाने की 55 फैक्ट्रियां स्थापित हुईं, जिसमें 15 बड़े स्तर की

तहसील काे देश में कृषि उपकरण की फैक्ट्रियां की वजह से भी जाना जाता है। यहां उत्तम प्रकार के कृषि यंत्र बनाए जाते हैं, जिसमें स्थानीय कारीगराें के साथ पंजाब के कारीगर भी अपनी भूमिका भी निभाते हैं। इस साल राज्य सरकार ने एक जिला-एक उत्पाद याेजना में कृषि यंत्राें काे चुना है।

पिछले 50 वर्षाें में नगर में कृषि उपकरण बनाने की करीब 55 फैक्ट्रियां हाे गई हैं। जिसमें 15 फैक्ट्रियां बड़े स्तर की हैं। कुछ फैक्ट्रियां लघु श्रेणी की हैं। कृषि उपकरणाें की फैक्ट्रियाें में उत्पादन भी बढ़ा है, अब प्रतिवर्ष 500 कराेड़ रुपए तक टर्नओवर पहुंच गया है।

देवचंद जैन ने 1968 में कृषि उपकरण सुधार का काम शुरू कर दिया था। उसके बाद कृषि उपकरण बनाना भी शुरू किया। शुरू से अब तक कृषि उपकरणाें में नित नए प्रयाेग हाे रहे। खेती काे आसान बनाने के लिए कृषि उपकरण सहायक हाे रहे हैं। ऐसे यह उद्याेग दिन प्रतिदिन प्रगति कर रहा है।

यह उपकरण बनाए जाते हैं
फैक्ट्रियाें में सीडड्रिल, पंजा, थ्रेसर, गाना, प्लाउ, ट्राॅली, लेबलर, हेराे, राेटावेटर, चेजव्हील, थ्रेसर, मल्टीक्राॅप थ्रेसर,पेडी थ्रेसर, हाॅपर, कल्टीवेटर बनाए जाते हैं। सीडड्रिल में नित प्रयाेग किए गए। उसमें अटैचमेंट बनाकर मक्का, मूंगफली के बाेवनी के यंत्र भी बनाए गए हैं।

इन यंत्राें की सप्लाई पूरे देश में हाेती है। जिसमें मप्र, छत्तीसगढ़, राजस्थान, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कनार्टक, उप्र, गुजरात सहित अन्य राज्य शामिल हैं। कृषि यंत्र निर्माता कुलवंत सिंह बताते हैं कि कृषि उपकरण के निर्माण में प्रतिदिन खाेज जारी रहती है। जिससे किसानाें काे नए कृषि यंत्र उपलब्ध कराए जा सकें, जिससे उन्हें खेती करने में आसानी हाे। लागत कम हाे और समय की बचत भी हाे।

अलग-अलग पार्ट बनते हैं, राेजगार भी मिलता है
कृषि उपकरण बनाने के लिए छाेटे-छाेटे पार्ट अलग-अलग लाेग बनाते हैं। जिससे कई लाेगाें काे राेजगार मिलता है। फैक्ट्रियाें में लाेग कृषि यंत्र बनाने का ठेका भी लेते हैं। वहीं कुछ लाेगों ने सड़क किनारे ही अपनी लघु श्रेणी की फैक्ट्रियां प्रारंभ कर ली हैं। जिसमें वह स्वयं ऑर्डर लेकर एक-एक यंत्र तैयार करते हैं, सबसे ज्यादा ट्राॅलियां ऐसी फैक्ट्री में बनती हैं। यहां करीब 13 हजार लाेग काम करते हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपका अधिकतर समय परिवार तथा फाइनेंस से जुड़े महत्वपूर्ण कार्यों में व्यतीत होगा। और सकारात्मक परिणाम भी सामने आएंगे। किसी भी परेशानी में नजदीकी संबंधी का सहयोग आपके लिए वरदान साबित होगा।। न...

    और पढ़ें