लॉकडाउन:ट्रक में छिपकर सीमा में घुसना चाहा ताे यूपी पुलिस ने ट्रक ही लाैटा दिया

खुरई2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • यूपी पुलिस के अधिकारी का कहना है शासन के आदेशाें का पालन हाे रहा है, सैकड़ाें मजदूर एमपी-यूपी सीमा पर दिनभर इंतजार करते रहे

रविवार काे भी दिनभर मजदूर मालथाैन के अटा-अमझराघाट पर बनी एमपी-यूपी बार्डर पर इंतजार करते रहे। लेकिन यूपी सीमा सील रही, काेई भी व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सका। सभी वाहनाें काे यूपी पुलिस ने वापस लाैटा दिया।  ट्रक के ऊपर छिपकर भी मजदूराें ने जाने का प्रयास किया, लेकिन यूपी पुलिस ने चेकिंग कर ट्रक काे ही वापस लाैटा दिया। पैदल लाेग भी प्रवेश नहीं कर पाए। पुलिस खाद्य सामग्री वाले ट्रकाें में सिर्फ दाे लाेगाें काे ही जाने दे रही है। ट्रक में इसके अलावा काेई भी व्यक्ति मिलने पर ट्रक ही वापस लाैटा रही है। ट्रक चालक से कहा जा रहा है कि उन्हें वापस एमपी की सीमा में छाेड़कर आओ  तब प्रवेश मिलेगा। ऐसे में सैकड़ाें की संख्या में अन्य प्रदेशाें से लाैटे यूपी के निवासी मजदूर परेशान हाे रहे हैं। उन्हें उनके ही घर में प्रवेश नहीं मिल रहा है। 

चेकपाेस्ट तक पहुंचने के बाद भी लाैटाया: मजदूराें का कहना है कि यूपी में झांसी चेकपाेस्ट तक पहुंचने के बाद भी लाैटा दिया गया। लाॅकडाउन में प्रवेश नहीं मिल रहा है, लेकिन जाे लाेग यूपी पहुंच चुके हैं उन्हें क्वारेंटाइन किया जा सकता है। लेकिन यूपी पुलिस अपनी जिम्मेदारियाें से बचने के लिए मजदूराें काे एमपी सीमा में छाेड़ रही है। मजदूराें काे खदेड़ा जा रहा है। इस असंवेदनशील रवैया के कारण महिलाएं, बच्चे बेहाल हैं। गाैरतलब है कि सागर के एसपी अमित सांघी ने बीती रात ललितपुर के एसपी से बात की थी। जिसमें ललितपुर एसपी ने मार्गदर्शन लेना बताया था। उसके बाद पूरा दिन बीतने के बाद भी काेई निर्णय नहीं हाे सका है। जबकि यूपी सरकार लगातार मजदूराें काे वापस लाने की बात कर रही है। सीमा तैनात यूपी के सीईओ , एसएचओ  का कहना है कि हमें सीमा सील रखने के आदेश हैं, किसी का भी प्रवेश वर्जित है। हम इसका पालन कर रहे हैं। शासन के आदेशाें का पालन किया जा रहा है। इसके अलावा हम कुछ नहीं कह सकते हैं।

खबरें और भी हैं...