अमृत सरोवर से बढ़ेगा सागर का जलस्तर:11 विकासखंडों में बन रहे 111 तालाब, 10 जून तक पूरा होगा काम

सागर5 महीने पहले
अमृत सरोवरों का निर्माण देखते

सागर में सिंचाई का रकबा और जलस्तर बढ़ाने के लिए 11 विकासखंडों में 111 अमृत सरोवरों का निर्माण कराया जा रहा है। तालाब का निर्माण कार्य चल रहा है। बारिश से पहले 10 जून तक सभी अमृत सरोवरों का काम पूरा करने की समय सीमा तय की गई है। इसी बीच सागर संभाग के आयुक्त मुकेश शुक्ला ने कलेक्टर दीपक आर्य, जिला पंचायत सीईओ क्षितिज सिंघल के साथ अमृत सरोवरों का निर्माण कार्य देखा। वे राहतगढ़ विकासखंड के खजुरिया गुरु, बरोदिया कला, मालथौन विकासखंड के ग्राम मड़ावन गौरी गांव पहुंचे। जहां अमृत सरोवर तालाबों का निरीक्षण किया। निर्माण देखने के बाद उन्होंने अमृत सरोवर का कार्य 10 जून तक पूरा करने के निर्देश दिए हैं।

संभाग आयुक्त शुक्ला ने कहा कि जिले में 111 अमृत सरोवर तालाबों का निर्माण होने से 10 हजार घन मीटर पानी जमा होगा। जिससे क्षेत्र में सिंचाई का रकबा बढ़ेगा। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में जलस्तर बढ़ेगा। ग्रामीणों को पानी की समस्या से निदान मिलेगा। कलेक्टर दीपक आर्य ने बताया कि जिले में बन रहे 111 अमृत सरोवर तालाबों का निर्माण समय-सीमा में पूरा करने के लिए अलग-अलग नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि प्रत्येक दो तालाब के बीच एक इंजीनियर और एक सब इंजीनियर को नोडल अधिकारी के तौर पर तैनात किया गया है। उन्होंने निरीक्षण के दौरान ग्राम पंचायत ढाना, जसराज, किशनपुरा और सिरोंजा ग्राम में बन रहे अमृत सरोवरों का निर्माण कार्य भी देखा। पुष्कर सरोवर का कार्य भी समय-सीमा में पूरा किया जाएगा। आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के चलते प्रदेश के प्रत्येक जिले में 75 अमृत सरोवर तालाबों का निर्माण कराया जा रहा है। लेकिन सागर जिले में 111 अमृत सरोवर बनाए जा रहे हैं।