पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • 13 Years Ago, The Girls Left School After The 5th, The Teacher Went Door to door And Explained To The Parents, Not A Single School Is Abandoned

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गुरु को नमन:13 साल पहले 5वीं के बाद पढ़ाई छोड़ देती थीं छात्राएं, शिक्षिका ने घर-घर जाकर अभिभावकों को समझाया अब एक भी शाला त्यागी नहीं

सागर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सरोज प्रजापति। - Dainik Bhaskar
सरोज प्रजापति।
  • सागर के घाटमपुर माध्यमिक शाला की शिक्षिका सरोज को आज मिलेगा राज्य स्तरीय सम्मान
  • ऑनलाइन किया जाएगा समारोह का आयोजन

रहली रोड स्थित घाटमपुर गांव में 13 साल पहले 5 वीं तक पढ़ने के बाद बालिकाएं स्कूल जाना छोड़ देती थीं। घर के लोग उनका बाल विवाह कर देते थे। समाज में व्याप्त ऐसी कुरीतियों को दूर करने के िलए यहां की माध्यमिक शाला में पदस्थ हुईं सरोज प्रजापति ने गांव में घर-घर जाकर शुरू किया। पढ़ाई छोड़ने वाली बालिकाओं को तलाशा और फिर उनके परिजनों को समझाइश देकर उन्हें दोबारा स्कूल में पढ़ने के लिए बैठाया। शिक्षिका की 13 साल की कड़ी मेहनत के बाद आज स्थिति यह है कि गांव में एक भी शाला त्यागी नहीं।

इतना ही नहीं शिक्षिका के कार्यों का ग्रामीणों पर इतना प्रभाव पड़ा कि सरकारी जमीन न होने पर लोगों ने स्कूल के भवन के लिए खुद की भूमि तक दान कर दी। शिक्षिका की कहानी आज हम आपको इसलिए बता रहे हैं क्योंकि आज सागर की शिक्षिका सरोज प्रजापति को राज्य स्तरीय शिक्षक सम्मान से नवाजा जाएगा। गौरतलब है कि हर साल 5 सितंबर को आयोजित होने वाला राज्य स्तरीय शिक्षक सम्मान समारोह वर्ष 2020 में कोरोना के चलते स्थगित कर दिया गया था। जिसके बाद अब 6 अप्रैल मंगलवार को इस समारोह का आयोजन ऑनलाइन किया जाएगा।

हर दिन 22 किमी स्कूटी चलाकर जाती हैं सरोज
शिक्षिका सरोज प्रजापति सागर के अहमदनगर कॉलोनी में रहने वाली हैं। इनके पति पेशे से वकील हैं। सरोज बतातीं हैं कि उनकी घाटमपुर गांव में पहली पोस्टिंग थी। जहां वे हर दिन 22 किमी स्कूटी चलाकर पहुंचती हैं। लेकिन उन्होंने आज तक कभी विभाग में ट्रांसफर के लिए आवेदन तक नहीं किया। उनके अनुसार शिक्षक कहीं भी पदस्थ रहे, बस अपना काम ईमानदारी से करे तो उसे हर जगह परिवार का अहसास होगा। सरोज ने बच्चों के हाथ से लिखी पत्रिका बाल मनो विचार का प्रकाशन, छात्राओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई स्किल कोर्स कराए। इसके अलावा संभाग में घुवारा छतरपुर से शिक्षक संजय जैन, शासकीय माध्यमिक शाला ढूंढा जिला टीकमगढ़ से राष्ट्रपति सम्मानित संजय जैन, माध्यमिक शाला लिधौरा दमोह से माधव पटेल और बड़ागांव पन्ना से विनीत कुमार द्विवेदी भी राज्य स्तरीय शिक्षक सम्मान से सम्मानित होंगे।

90% रिजल्ट वाले प्रदेश 83 स्कूलों में 18 सागर संभाग के

शिक्षक सम्मान के बाद प्रदेश में 90% से अधिक रिजल्ट देने वाले प्रदेश के 83 स्कूलों के प्राचार्यों का सम्मान होगा। 83 में सागर संभाग के 18 प्राचार्यों के नाम शामिल हैं। इनमें सागर के 6, टीकमगढ़ के 2, छतरपुर के 3 और दमोह के 7 प्राचार्य शामिल हैं। इनमें सागर के रविशंकर स्कूल के राजेश कुमार खरे, खुरई से डॉ. धन्य कुमार जैन, मालाथौन से पवन कुमार उपाध्याय, शाहगढ़ से अशोक कुमार तिवारी, बालकृष्ण राय और मोहनलाल विश्वकर्मा शामिल है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें