• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • 1856 Cases Resolved By Mutual Reconciliation In 45 Divisions Of The District, Compensation Of Rs 2.3 Crore In Claim Cases

लाेक अदालत:जिले की 45 खंडपीठाें में आपसी सुलह से सुलझे 1856 केस, दावा प्रकरणों में 2.3 कराेड़ रुपए क्षतिपूर्ति दिलाई

सागर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
1 कराेड़ 58 लाख 75 हजार 859 का राजस्व प्राप्त हुआ - Dainik Bhaskar
1 कराेड़ 58 लाख 75 हजार 859 का राजस्व प्राप्त हुआ
  • राजीनामा करने वालाें काे जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने भेंट किए फलदार पाैधे
  • धान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने लाेक अदालत में आए पक्षकाराें काे फलदार पाैधे भेंट किए

नेशनल लाेक अदालत के तहत शनिवार काे जिले की 45 खंडपीठाें में सुनवाई की गई। इनमें 1856 प्रकरण निराकृत कराए गए। ज्यादातर मामलाें में राजीनामा हुए। वहीं एक्सीडेंट में माैत पर क्षतिपूर्ति दावा प्रकरणाें का निराकरण करते हुए 2 कराेड़ 3 लाख 71 हजार की क्षतिपूर्ति राशि पक्षकाराें काे दिलाई गई। प्रधान जिला-सत्र न्यायाधीश व अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अरुण कुमार सिंह ने राजीनामा के बाद दाेनाें पक्षाें काे न्याय के प्रतीक स्वरूप फलदार पाैधे भेंट किए।

लोक अदालत का आयोजन जिला मुख्यालय के साथ जिले की सभी तहसील न्यायालयों में किया गया। प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सिंह ने काेर्ट में इसका विधिवत शुभारंभ किया। न्यायालय में लंबित प्रकरणों में से 562 एवं प्री-लिटिगेशन के 1294 प्रकरणों का निराकरण राजीनामा के आधार पर किया गया। वाहन दुर्घटना के 75 प्रकरणों का निराकरण कर क्षतिपूर्ति राशि 2 कराेड़ 3 लाख 71 हजार रुपए के अवार्ड पारित किए गए। चैक बाउंस के 171 प्रकरणों की कुल राशि 4 कराेड़ 81 लाख 61 हजार 452 रुपयाें के मामले में समझौता कराया गया।

आपराधिक प्रकृति के शमन योग्य 116, बिजली के 47, पारिवारिक विवाद के 58 तथा दीवानी एवं अन्य प्रकृति के 95 प्रकरणों का निराकरण किया गया। विभिन्न बैंकों के 79 प्री-लिटिगेशन प्रकरण, बिजली विभाग के 232 प्री-लिटिगेशन प्रकरण, नगर निगम के 557 प्री-लिटिगेशन प्रकरण एवं अन्य 426 प्री-लिटिगेशन प्रकरणों का निराकरण हुआ। जिसमें 1 कराेड़ 58 लाख 75 हजार 859 का राजस्व प्राप्त हुआ। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव मनीष भट्ट ने बताया कि जिले भर में 45 खंडपीठाें में सुनवाई की गई। लाेगाें ने नेशनल लाेक अदालत में केसाें का आपसी सुलह के साथ निराकरण कराया है। जिला विधिक सहायता अधिकारी योगेश बंसल ने बताया कि प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने लाेक अदालत में आए पक्षकाराें काे फलदार पाैधे भेंट किए।

खबरें और भी हैं...