पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • 35% Vaccination In Five Months, Now Claim To Apply 18% In 10 Days, But It Is Not Decided Whether 3 Lakh Vaccines Will Be Available

वैक्सीनेशन का महाअभियान:पांच माह में 35% वैक्सीनेशन, अब 10 दिन में 18% को लगाने का दावा, लेकिन 3 लाख टीके मिलेंगे यह तय नहीं

सागरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हड़ली पंचायत के टीकाकरण केंद्र पर महिलाओं को खुद लेकर पहुंची सरपंच लीलाबाई। - Dainik Bhaskar
हड़ली पंचायत के टीकाकरण केंद्र पर महिलाओं को खुद लेकर पहुंची सरपंच लीलाबाई।
  • जिले में टीकाकरण के 152 दिन पूरे, अब तक केवल 5.87 लाख आबादी को ही लगे टीके

सागर समेत प्रदेशभर में वैक्सीनेशन का महाअभियान 21 जून से शुरू होने जा रहा है। अब तक जहां 10 हजार टीके प्रतिदिन लगाने का लक्ष्य था, वह बढ़कर 30 हजार किया जा रहा है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक जिले में अब तक 5 लाख 87 हजार 514 लोगों को टीके लग चुके हैं। जो कि कुल पात्र आबादी का 35 फीसदी है।

अब भी 10 लाख 86 हजार 142 टीकाकरण से वंचित हैं। यदि एक दिन में 30 हजार टीके लगे तो 37 दिन में 100 फीसदी लोगों का वैक्सीनेशन हो जाएगा। लेकिन यह अभियान केवल 10 दिन का ही है। जिसमें 3 दिन अवकाश के रहेंगे। इस बीच लोगों को वैक्सीनेशन केंद्रों पर पहुंचाना, वैक्सीन की उपलब्धता और 250 से अधिक केंद्रों का मैनेजमेंट करने जैसी बड़ी चुनौतियां जिले के आला अफसरों के सामने खड़ी हैं।

यह अभियान 30 जून तक चलेगा। जिसमें दो मंगलवार और एक रविवार भी होंगे। यानी 7 दिन ही अभियान चलाया जाएगा। जिला पंचायत सीईओ डॉ. इच्छित गढ़पाले का कहना है कि छुट्‌टी के दिनों में विशेष शिविर प्लान किए गए हैं।

टीके का गणित

5 माह में सिर्फ 35 फीसदी का टीकाकरण, इसमें भी 0.04 फीसदी को लगे दोनों डोज
जनवरी से लेकर अब तक के टीकाकरण की बात करें तो जिले में टीकाकरण के लिए 16 लाख 73 हजार 656 लोग पात्र हैं। इनमें से 35 फीसदी आबादी का टीकाकरण हुआ है। जिसमें 5 लाख 20 हजार 359 को केवल एक और 67542 को दोनों टीके लग सके हैं। वहीं जिले में 21272 हेल्थ केयर वर्कर और 24166 फ्रंट लाइन वर्कर का 100 फीसदी वैक्सीनेशन हो चुका है।

जिले में 18 से 44 वर्ष तक की आयु के 10 लाख 55 हजार युवा हैं, इनमें से 1 लाख 77 हजार 304 का वैक्सीनेशन हुआ है। वहीं 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों की संख्या 6 लाख 18 हजार 638 है, इनमें से 3 लाख 65 हजार 872 लोगों को टीके लग चुके हैं। 18+ का वैक्सीनेशन प्रतिशत 16.8 फीसदी और 45+ के टीकाकरण का प्रतिशत 59.1 है। 45+ के टीकाकरण के मामले में सागर प्रदेश में तीसरे स्थान पर है।

सागर में कोवैक्सीन के 41 हजार डोज, कोविशील्ड का स्टॉक खत्म
जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एसआर रोशन ने बताया कि जिले में फिलहाल केवल को-वैक्सीन की सप्लाई की जा रही है। स्टॉक में इसके 41 हजार डोज मौजूद है। जबकि कोविशील्ड का स्टॉक खत्म है। महाअभियान के लिए अब हर दिन वैक्सीन की खेप आएगी। जिसे कोल्ड चैन के जरिए जिले में बनने जा रहे 250 से अधिक केंद्रों पर सप्लाई किया जाएगा।

हड़ली पंचायत- वैक्सीन न लगवाने पर सरकारी योजना का लाभ देना बंद किया तो 45+ के 83% लोगों ने लगवाए टीके

वैक्सीनेशन के मामले में जिले की हड़ली पंचायत सबसे आगे हैं। यहां अब तक 55.5 फीसदी लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है। जिसमें 60 वर्ष से अधिक उम्र के 90 फीसदी बुजुर्ग, 45+ के 83.04 फीसदी लोग और 18+ के 38.19 फीसदी युवा वैक्सीनेटिड हो चुके हैं। वहीं अगले एक सप्ताह के भीतर 100 फीसदी लोगों के टीकाकरण का दावा किया जा रहा है।

इसका मुख्य कारण है यहां की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी। जिन्होंने टीकाकरण की धीमी रफ्तार देखकर एक माह पहले वैक्सीन नहीं लगवाने वालों को आवास, नलकूप और अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ देना बंद कर दिया। इतना ही नहीं लोगों को डराने के लिए एक घोषणा पत्र बनाया जिसमें लिखा कि यदि मैं वैक्सीनेशन नहीं कराता हूं तो मुझे सरकारी योजनाओं का लाभ न दिया जाए और यदि गांव में किसी को कोरोना हुआ तो जिम्मेदार भी मैं रहूंगा। जिसके बाद घोषणा-पत्र पर हस्ताक्षर करने की जगह लोगों ने वैक्सीनेशन का रास्ता अपनाया।

सरपंच लीलाबाई अहिरवार बताती हैं कि हड़ली पंचायत के बोबई, हड़ली और मरावनमार गांव को मिलाकर वैक्सीनेशन के लिए पात्र कुल आबादी 1257 है, जिसमें से 698 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। इतना ही नहीं वैक्सीन लगवाने वालों को पौधा भेंट किया जा रहा है। सरपंच लीलाबाई व सचिव संतोष विश्वकर्मा घर-घर जाकर लोगों से टीकाकरण कराने की मांग कर रहे हैं। इस काम में जनपद सीईओ हेमेंद्र गोविल का भी सहयोग मिल रहा है।

ये हैं 12 आदर्श पंचायतें, जहां एक सप्ताह में 100 फीसदी वैक्सीनेशन का लक्ष्य
जिले में 12 पंचायतों को आदर्श बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। एक सप्ताह के भीतर 100 फीसदी वैक्सीनेशन कराया जाएगा। इनमें हड़ली, सतोरिया, सानौधा, हीरापुर, भापेल, नगदा, कोरजा, रौडा, निवारी, गुगवारा, तुमरी, पिपरिया चमारी और पापेट पंचायतें शामिल हैं। जिला पंचायत सीईओ डॉ. इच्छित गढ़पाले ने इनमें से दो पंचायतों को आदर्श बनाने की जिम्मेदारी ली है। वहीं हर जनपद सीईओ के पास एक-एक पंचायत है।

खबरें और भी हैं...