• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • 7 Crooks Of Sagar And Rahatgarh Involved In The Robbery Of 66.77 Lakhs At The Doctor's House In Pune Arrested

सागर के दो आरोपी फरार:पुणे में डाॅक्टर के घर 66.77 लाख की डकैती में शामिल सागर व राहतगढ़ के 7 बदमाश गिरफ्तार

सागर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बदमाशों से जब्त जेवर-नकदी। - Dainik Bhaskar
बदमाशों से जब्त जेवर-नकदी।

महाराष्ट्र के पुणे में डॉक्टर काे चाकू दिखाकर 66.77 लाख रुपए की डकैती में सागर के माेतीनगर व राहतगढ़ थाना क्षेत्र के 9 बदमाश शामिल थे। माेतीनगर व राहतगढ़ पुलिस की मदद से 7 बदमाशाें काे मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर इस पूरे मामले का खुलासा किया है। इनमें राहतगढ़ का रहने वाला हेमंत कुशवाहा वारदात का मास्टर माइंड है। उसके खिलाफ विदिशा में भी लूटपाट के मामले दर्ज हैं। आरोपियों के कब्जे से 30.52 लाख रुपए नकद व सोने-चांदी के जेवरात बरामद किए गए हैं। बदमाशाें ने लूट के रुपयाें से अपने शौक पूरे करने के लिए ब्रांडेड कपड़े, जूते और बाइक खरीद ली थी। मामले में महाराष्ट्र पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। सागर के दो आरोपी फरार हैं।

जानकारी के अनुसार पुणे के लोनावाला निवासी 75 वर्षीय डॉ. हीरालाल खंडेलवाल के घर में 17 जून की रात 15 बदमाशों ने खिड़की के रास्ते घुसकर डकैती डाली थी। चाकू दिखाकर डाॅक्टर से अलमारी की चाबियां ली और नकदी व जेवर पर हाथ साफ कर दिया। बदमाश घर से जेवर व नकदी समेत 66.77 लाख का सामान लूटकर फरार हो गए थे। वारदात सामने आते ही पुलिस ने जांच शुरू की। सीसीटीवी फुटेज से पुलिस काे स्थानीय बदमाशाें का पता चला। उनसे पूछताछ की गई ताे पता चला कि सागर से आए बदमाशाें के साथ मिलकर वारदात की।

जांच के दौरान मुंबई पुलिस काे आरोपियों की लोकेशन सागर जिले में मिली थी। इसके बाद महाराष्ट्र पुलिस ने सागर पुलिस अधीक्षक अतुल सिंह से संपर्क किया। लोनावाला थाने की टीम सागर पहुंची। माेतीनगर थाना प्रभारी सतीश सिंह व राहतगढ़ थाना प्रभारी आनंद राज के साथ टीम ने अलग-अलग स्थानाें से बदमाशाें काे गिरफ्तार किया।

पुणे के बदमाशाें ने कहा- पूरा माल सागर के लाेग ले गए

राहतगढ़ थाना प्रभारी आनंद राज ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पकड़े गए पुणे के बदमाशाें से जब मुंबई पुलिस ने पूछताछ की ताे उन्हाेंने कहा कि पूरा माल सागर से आए बदमाश ले गए। इसके बाद मुंबई पुलिस सागर आई। राहतगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम डाबरी से विजय पटेल और दो नाबालिगों को पकड़ा। आरोपी हेमंत कुशवाहा, गोविंद कुशवाहा, प्रदीप धानक और दौलत कुशवाहा को डाबरी से गिरफ्तार किया गया है। एक आराेपी माेतीनगर थाना क्षेत्र के बाइसा मुहाल से पकड़ा गया। आरोपी राजा व वासू फरार हैं। उनकी तलाश चल रही है। बदमाशाें के कब्जे से सोने-चांदी के जेवरात व नकद समेत 30 लाख 52 हजार से अधिक का माल बरामद किया है।

किसी ने डीजे, ब्रांडेड कपड़े,बुलेट व स्कूटी खरीदी ताे किसी ने कराया मकान निर्माण

लोनावाला थाना के एसआई रामेश्वर धोंडगे के अनुसार डकैती में सागर के 9 लोग शामिल थे। जिनमें से 2 नाबालिग समेत 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। डकैती में लूटे गए रुपयाें से आरोपी अपने शौक पूरे कर रहे थे। आरोपी हेमंत ने डीजे खरीदा। वहीं नाबालिग आरोपी ने बुलेट खरीद ली है। इसके अलावा अन्य आरोपियों ने ब्रांडेड कपड़ा, बहन को स्कूटी दिलवाई है। कुछ आरोपियों ने मकान निर्माण भी शुरू करा लिया था और मटेरियल खरीदकर रखवा लिया था।

हेमंत है मास्टर माइंड, फिल्म सिटी में काम करते हुए फिल्मी अंदाज में डाली डकैती

पुलिस के अनुसार राहतगढ़ के डाबरी निवासी हेमंत मुंबई में फिल्म सिटी में काम करता है। जहां उसकी दोस्ती श्याम शर्मा से हुई। हेमंत ने श्याम के साथ मिलकर डॉक्टर के घर में डकैती की साजिश रची। इस दौरान हेमंत ने फोन पर डाबरी में एक नाबालिग से बात की और अपने साथी पुणे बुला लिए थे। नाबालिग ने सागर के गोविंद से बात की। इसके बाद सागर और राहतगढ़ के डाबरी से 9 आरोपी डकैती डालने के लिए पुणे पहुंचे थे। हेमंत सट्टा खेलता है। वह सट्टे में लाखाें रुपए हार गया था।

खबरें और भी हैं...