पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Corporation Rectified Leakage With Jugaad, Water Was Not Found In 16 Wards Even On Sunday, Likely To Be Available Today

चप्पल इंजीनियरिंग:निगम ने जुगाड़ से सुधारा लीकेज, 16 वार्ड में नहीं मिला रविवार को भी पानी, आज मिलने की संभावना

सागर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मोतीनगर और शीतला माता मंदिर के पास 500 एमएम चौड़ी पाइप लाइन को बदलने के लिए नगर निगम ने 3 जून को सप्लाई बंद कर दी थी। यह काम रविवार को पूरा करते हुए 16 वार्डों में पानी देना था, लेकिन रविवार रात तक रहवासियों को पानी नहीं मिला। क्षेत्र में पिछले 3 दिन से सप्लाई नहीं होने की वजह से लोगों को कोरोना कर्फ्यू में घर से बाहर निकलकर हैंडपंपों और कुएं का सहारा लेना पड़ा। लोग पानी के लिए भटकते रहे।

दरअसल, पाइप-लाइन को जोड़ने के बाद जैसे ही खोदे गए गड्ढे को मिट्टी से भरने लगे, तभी बड़ा पत्थर नई लाइन पर जा गिरा। जिसके कारण लाइन में लीकेज हो गया। निगम की मेंटेनेंस टीम ने लीकेज को सुधारने के लिए अपनी ही जुगाड़ कर ली। टीम ने लीकेज पर पहले एम सील (ज्वाइंट को चिपकाने में उपयोग होता है पदार्थ) लगाया। फिर उसके ऊपर दो रबर की चप्पल चिपका दी। इसके बाद लोहे का क्लैंप टूटी गई लाइन पर नट बोल्ट से कस दिया।

रविवार सुबह मोतीनगर और शीतला माता मंदिर के यहां जोड़ी गई लाइन की टेस्टिंग कर ली गई थी। अब गड्‌ढे को भरने की बारी थी, जिसमें ठेकेदार ने लापरवाही से काम करते हुए जेसीबी से मिट्टी के साथ एक पत्थर भी लाइन पर गिरा दिया। इससे नई पाइप लाइन में छेद निकल आया।

3 दिनों से पानी नहीं मिलने से नाराज रहवासियों की भीड़ भी वहां पहुंच गई। अफसरों को मौके से ही फोन लगाए, लेकिन किसी ने फोन रिसीव नहीं किया। इंजीनियर विजय दुबे ने वहां पहुंचकर लीकेज की मरम्मत कराने लगे थे। रहवासी जगन्नाथ गुरैया, रीतेश मिश्रा, यशवंत करोसिया ने लाइन बदलने की मांग की है।

लाइन में एमसील भी लगाई
नगर निगम ने लीकेज को सुधारने के लिए अलग तरह की जुगाड़ की। उन्होंने ज्वाइंट पर हुए छेद को एम सील से बंद किया और ऊपर से दो चप्पल उस पर चिका दी। कर्मचारियों का कहना है कि यह इसलिए चिपकाई है कि क्लैंप को कसने के बाद छेद पर प्रेशर न पड़े। खैर, नगर निगम की यह देसी जुगाड़ से इंजीनियरिंग विभाग भी आश्चर्य में है।
अब क्या होगा
मेंटेनेंस टीम का कहना है कि लाइन को अभी जोड़ कर पहले वार्डों में सप्लाई की जाएगी। इसके बाद उस पाइप को बदलकर नया डाल दिया जाएगा। संभावनाएं है कि सोमवार रात तक कुछ वार्डों का सप्लाई मिल जाएगी। ़

खबरें और भी हैं...