पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कैंट बोर्ड:छावनी अधिनियम 2006 में संशाेधन के चलते टल सकते हैं परिषद के चुनाव

सागर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैंट बाेर्ड के चुनाव हाेंगे या भंग हाेगा, इसका फैसला फरवरी 2021 में हाेगा

छावनी अधिनियम 2006 में संशाेधन हाेना है। इसलिए बाेर्ड के चुनाव टाले जा सकते हैं। बाेर्ड का कार्यकाल दाे बार बढ़ाया जा सकता है। कैंट बाेर्ड के चुनाव हाेंगे या भंग हाेगा। इसका फैसला फरवरी 2021 में हाेगा। यदि चुनाव नहीं हुए ताे बाेर्ड भंग कर प्रशासक काे कमान साैंपे जाने की परिस्थिति बन सकती है।

कुछ दिनों पहले दाे पार्षदाें की हाे चुकी है माैत

कैंट बाेर्ड में कुल 7 पार्षद थे। इनमें से दाे पार्षदाें की माैत हाे चुकी है। वार्ड नंबर 2 की पार्षद किरण केशरवानी और वार्ड नंबर 3 के पार्षद मकरानी जिलानी का पिछले दिनाें निधन हाे गया था। इस तरह पार्षदाें की संख्या घटकर 5 रह गई है। उपाध्यक्ष का चुनाव सीधे जनता से कराने की मांग पर एक्ट में संशाेधन की तैयारी है। इसके लिए स्टैंडिंग कमेटी अपनी रिपाेर्ट दे चुकी है। काेराेना के कारण निर्णय लंबित हाेना बताया जा रहा है।

दाे बार ही बढ़ सकता है कार्यकाल

कैंट के वरिष्ठ पार्षद वीरेंद्र पटेल ने बताया कि कैंट अधिनियम के तहत बाेर्ड का कार्यकाल दाे बार ही बढ़ाया जा सकता है। पहली बार फरवरी 2020 में अगस्त तक के लिए बढ़ा था। इसके बाद अगस्त में दूसरी बार कार्यकाल बढ़ाया गया है। बाेर्ड भंग हाेने के अासार बन रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें