कंट्रोल रूम में पुलिस स्टाफ को दो दिन दी ट्रेनिंग:हादसों की वजह जानने आईआरएडी एप की मदद से तैयार होगा डेटाबेस

सागर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक्सीडेंट, हादसे होने की वजह जानने व उनमें कमी लाने इंटीग्रेटेड रोड एक्सीडेंट डेटाबेस तैयार किया जा रहा है। इस प्रोजेक्ट के आईआरएडी एप की ट्रेनिंग पुलिस कंट्रोल रूम में पुलिस स्टॉफ को दी गई। इस एप में जिले में कहीं भी कोई भी सड़क दुर्घटना होने पर पूरी जानकारी जैसे स्थान का नाम, हादसा होने की संभावित वजह तुरंत फीड की जाएगी।

इससे भविष्य में जिले के किन स्थानों पर किन कारणों से हादसे बार-बार हो रहे हैं? उनकी वजह जानने में मदद मिल सकेगी। जिससे दुर्घटनाओं को कम करने के उपाय किए जा सकेंगे। इस एप में जानकारी देते समय एक लिंक के जरिए नजदीकी अस्पताल के डॉक्टर, एंबुलेंस, आरटीओ व पुलिस अधिकारियों के पास हादसे की जानकारी तत्काल पहुंच जाएगी। मौके पर पहुंचे जांच अधिकारी ही फोटो व 10-10 सेकंड के वीडियो बनाकर एप पर अपलोड करेंगे। इस एप की मदद से कहीं भी हादसे का डाटा देखा जा सकेगा।

खबरें और भी हैं...