पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Dr. Khatik Became The First Union Cabinet Minister Of Bundelkhand, The First Such MP Who Got A Place In Team Modi For The Second Time

प्रदेश राजनीति में संभाग का रुतबा बढ़ा:बुंदेलखंड के पहले केंद्रीय कैबिनेट मंत्री बने डॉ.खटीक, पहले ऐसे सांसद जिन्हें दूसरी बार टीम मोदी में जगह मिली

सागर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इसी अंदाज से चर्चित हुए वीरेंद्र - Dainik Bhaskar
इसी अंदाज से चर्चित हुए वीरेंद्र
  • अब बुंदेलखंड से छह मंत्री, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भी

टीकमगढ़ सांसद डॉ.वीरेंद्र कुमार खटीक को बुधवार को मोदी मंत्रिमंडल में जगह मिल गई। वे बुंदेलखंड के पहले ऐसे सांसद हैं जो केंद्रीय कैबिनेट मंत्री बने हैं। इसके साथ ही वे बुंदेलखंड के ऐसे सांसद भी बन गए हैं, जिन्हें दूसरी बार केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल किया। चार साल पहले वे बुंदेलखंड का प्रतिनिधित्व करने वाले पहले ऐसे सांसद हुए, जिन्हें प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी टीम में शामिल किया था।

उमा दो बार केंद्रीय मंत्री रहीं, तब बुंदेलखंड से सांसद नहीं थी

डॉ. खटीक सहित अब सागर संभाग में दो केंद्रीय मंत्री और चार प्रदेश कैबिनेट मंत्री हो गए हैं। दमोह सांसद प्रहलाद पटेल दो साल से केंद्रीय राज्यमंत्री है। पटेल पहले भी मंत्री रह चुके हैं लेकिन तब वे बालाघाट (बुंदेलखंड नहीं) सांसद थे। बुंदेलखंड की रहने वाली साध्वी उमा भारती भी दो बार केंद्रीय मंत्रिमंडल में रहीं लेकिन दोनों बार वे बुंदेलखंड से सांसद नहीं थी।

22 साल पहले भारती भोपाल सांसद रहते हुए अटल सरकार में केंद्रीय मंत्री बनी थीं। 2014 में वे झांसी सांसद रहते हुए मंत्री बनीं। डॉ.खटीक को 2017 में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री बनाया था, वे दो साल मंत्री रहे। इसके बाद उन्हें अब मौका मिला। इनके अलावा सागर जिले से पं.गोपाल भार्गव, भूपेंद्र सिंह, गोविंदसिंह राजपूत और पन्ना जिले से बृजेंद्र प्रताप सिंह प्रदेश कैबिनेट मंत्री है। बड़ामलहरा विधायक प्रद्युम्न सिंह और दमोह के पूर्व विधायक राहुल सिंह को राज्यमंत्री का दर्जा भी मिला हुआ है। वर्तमान में भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा खजुराहो संसदीय सीट से सांसद हैं।

डॉ.खटीक को मंत्री बनाए जाने के ये हैं समीकरण

  • डॉ.खटीक को मोदी सरकार में 3 सितंबर 2017 को पहली बार केन्द्रीय राज्यमंत्री बनाया। 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए दलित समुदाय को साधने के लिए उन्हें केंद्रीय राज्य मंत्री बनाया।
  • 2019 में जब दोबारा मोदी सरकार आई तो 17 व 18 जून 2019 को प्रोटेम स्पीकर बने। तब केंद्रीय मंत्रिमंडल में इनसे पुराने दलित मंत्री पहले से शामिल हो चुके थे।
  • इस बार मोदी खेमे में सबसे बड़ा दलित चेहरा डॉ.खटीक ही थे। जिसके चलते उन्हें इस बार केंद्रीय मंत्री पद मिला।

पिता की इच्छा- संभाग का विकास कराएं
94 साल के पिता स्वतंत्रता संग्राम सेनानी अमर सिंह से खास मुलाकात
केंद्रीय मंत्री बने बेटे को लेकर आप क्या सोचते हैं?
- सेवा का कार्य करते रहो, जितना बन सके बस अच्छा करते हुए चलते जाओ, यह उनका काम भी है।
आपके मंत्री बेटे को क्या-क्या काम करने की जरूरत है?
- सांसद रहते सागर तालाब में चकराघाट का सौंदर्यीकरण कराया था। उसी तरह पूरे सागर संभाग का विकास कराएं।

खबरें और भी हैं...