पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Dr. Sathendra Mishra Discharged From Hyderabad Hospital; Just Take Treatment In Jabalpur For A Few Days, Then Sagar Will Come

कोरोना से जीती जंग:हैदराबाद के अस्पताल से डिस्चार्ज हुए डॉ. सतेंद्र मिश्रा; अभी कुछ दिन जबलपुर में इलाज लेंगे, फिर सागर आएंगे

सागरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डॉ. सतेंद्र मिश्रा - Dainik Bhaskar
डॉ. सतेंद्र मिश्रा
  • परिजनों और शहरवासियों की दुआ का असर, हैदराबाद के यशोदा अस्पताल से डिस्चार्ज हुए

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के टीबी एंड चेस्ट रोग विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. सत्येंद्र मिश्रा ने आखिरकार कोरोना को हराकर सांसों की जंग जीत ली है। इसे परिजनों और शहरवासियों की दुआ का असर ही कहें कि गुरुवार को डॉ. मिश्रा हैदराबाद के यशोदा अस्पताल से डिस्चार्ज हुए।

अस्पताल के डॉक्टर्स ने डॉ. मिश्रा का चेकअप और जांचें करने के बाद छुट्टी का निर्णय लिया। हालांकि इलाज कर रहे डॉ अपार जिंदल ने उन्हें समय-समय पर चेकअप कराने की सलाह दी है। जिसके चलते फिलहाल वे सागर न आकर शुक्रवार को जबलपुर स्थित अपनी बहन के घर पहुंचेंगे।

फ्लाइट कनेक्टिविटी के कारण लिया जबलपुर में रहने का निर्णय

डॉ. मिश्रा के भाई अशोक मिश्रा ने बताया गुरुवार को सत्येंद्र की अस्पताल से छुट्टी कर दी गई है। उनकी हालत में सुधार है। ऑक्सीजन लेवल 94 प्रतिशत के करीब है। उन्होंंने कहा डॉ. सत्येंद्र जबलपुर में इसलिए शिफ्ट हो रहे हैं ताकि यदि कोई इमरजेंसी हुई तो जबलपुर से हैदराबाद के लिए सीधे फ्लाइट है।

इससे वह तत्काल हैदराबाद पहुंच सकते हैं। अशोक मिश्रा ने कहा सत्येंद्र स्वयं व अपने सीनियर डॉक्टरों की सलाह से अभी जबलपुर में इलाज लेंगे। गौरतलब है कि डॉ. सत्येंद्र मिश्रा 12 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हुए थे। जिसके बाद 19 अप्रैल तक उनका इलाज भाग्योदय अस्पताल में चला। 19 अप्रैल को डॉ. सत्येंद्र मिश्रा की नाजुक स्थिति को देखते हैदराबाद भेजा गया था।

खबरें और भी हैं...