पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • During The Corona Period, The Charity Has Also Declined, The Donation Box Is Not Coming Even Half As Compared To Last Year, Only 30% Of The Donations In The Month Of Savan Came In The Last 9 Months.

कोरोना असर:कोरोना काल में दान पुण्य भी घटा, दान पेटी में पिछले साल की अपेक्षा आधा भी नहीं आ रहा दान, सावन माह का 30% दान ही आया बीते 9 माह में

सागरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इस साल सावन के अलावा अधिक मास आधा बीतने के बाद भी नहीं हो पाई एक सावन सोमवार बराबर चढ़ोत्तरी

कोरोना वायरस संक्रमण जितना स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा रहा है। उतना ही धर्म-कर्म को भी प्रभावित कर रहा है। यही वजह है कि मंदिरों और धर्मस्थलों पर भक्तों की संख्या में जबरदस्त गिरावट आई है। ढाई साल में एक मर्तबा आने वाले अधिकमास में पुण्य कार्य का 10 गुना फल मिलने के बावजूद मंदिरों में दान घटा है। पुजारियों के अनुसार जितना दान अकेले सावन माह में दान पेटियों में एकत्र होता था। उसका 30 फीसदी दान भी इस साल बीते 9 माह में एकत्र नहीं हो पाया है।

दादा दरबार मंदिर भक्तों की संख्या घटकर 25% हुई
दादा दरबार मंदिर के पुजारी पंडित चंद्रभान तिवारी बताते हैं कि पिछले साल तक मंदिर में रोजाना 300 से ज्यादा भक्त भगवान के दर्शनों के लिए आते थे। लेकिन कोरोना वायरस के भय के कारण इस साल यह संख्या घटकर 20 से 25 फीसदी ही रह गई है।लिहाजा इसका असर दान पुण्य पर भी पड़ा है। संक्रमण फैलने के भय के कारण भक्त मंदिरों में कम आ रहे हैं।

श्री नागेश्वर मंदिर इस बार सावन माह में 30% भक्त आए

श्री नागेश्वर मंदिर के पुजारी पंडित नरेंद्र नगाइच बताते हैं कि मंदिर में हर साल सावन सोमवार के मौके पर रोजाना 1000 तक श्रद्धालु भगवान के दर्शनों के लिए आते थे।लेकिन इस साल कोरोना काल के कारण यह संख्या घटकर 30 फीसदी पर आ गई है। इसका असर यह हुआ कि एक सावन सोमवार पर जितनी चढ़ोत्तरी हो जाती थी। उतनी बीते 9 माह में दान पेटी में एकत्र नहीं हो पाई है।

पहलवान बाबा मंदिर इस बार 25 हजार रु. ही दान आया

पहलवान बाबा मंदिर के पुजारी रम्मू तिवारी बताते हैं कि लोग डर के कारण अन्य कामों की तरह धर्म कर्म से भी दूरी बनाए हुए हैं। पिछले साल तक करीब एक लाख रुपए तक की चढ़ोत्तरी मंदिर में 1 साल में हो जाती थी। लेकिन इस साल सिर्फ 20 फीसदी भक्त ही मंदिर पहुंच रहे हैं। इसलिए यह राशि 25 हजार रुपए तक पहुंचना भी मुश्किल हो गया है।

भूतेश्वर मंदिर हफ्ते में पहले 6-7 हजार आता था दान

भूतेश्वर मंदिर के पुजारी मनोज तिवारी बताते हैं कि कोरोना काल के दो माह तो लोग घर से ही बाहर नहीं निकले। अब आधे रह गए हैं। इनकी संख्या 25 फीसदी ही बची है। पहले एक हफ्ते में दान पेटी में 6 से 7 हजार तक चढ़ोतरी हो जाती थी। अब यह घटकर 3 हजार पर आ गई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें