• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Expressed Displeasure At The Poor Condition Of The Delivery Room And The Mess In The Ward

निरीक्षण किया:डिलीवरी रूम की खस्ता हालत और वार्ड में गंदगी देख जताई नाराजगी

सागर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सागर | राहतगढ़ में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का निरीक्षण करती डॉ. गिडियन। - Dainik Bhaskar
सागर | राहतगढ़ में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का निरीक्षण करती डॉ. गिडियन।
  • जेडी ने राहतगढ़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में देखीं व्यवस्थाएं

संयुक्त संचालक डॉ. नीना गिडियन ने गुरुवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र राहतगढ़ का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने पाया कि पुराने डिलीवरी रूम की हालात बिल्कुल खराब हो गई है। नया वार्ड जो कोरोना के लिए बनाया गया था गंदगी से भरा पड़ा है। उन्होंने स्टाफ को बुलाकर उसे साफ करवाया। बीएमओ राजीव रैकवार को आदेश दिया तुरंत लेबर रूम को यहां शिफ्ट करें। डॉ. गिडियन ने नर्सेस ड्यूटी रूम भी तैयार करवाया।

उन्होंने कहा मातृ मृत्यु व बच्चों की मृत्यु दर को कम करना सरकार की पहली प्राथमिकता है। इसलिए मेटरनिटी के काम को क्वालिटी के साथ करना है। तभी हम अपना लक्ष्य प्राप्त कर सकेंगे। डॉ. गिडियन ने न सिर्फ आदेश दिया, बल्कि साथ खड़े होकर उसे पूरा भी कराया। इसमें उनके साथ सागर से आई लिशा स्किल्स लैब इंचार्ज, व चंद्रशेखर शिल्पकार ने भी सहयोग दिया। टीकाकरण के लिए कोल्ड चेन का सही परिपालन हो रहा है या यह भी उन्होंने देखा। बीएमओ ने सोलर सिस्टम दिखाया जो ठीक काम कर रहा था। एक्स-रे मशीन तो है लेकिन टेक्नीशियन नहीं है, इस संबंध में उन्होंने सीएमएचओ से चर्चा की। अस्पताल में डिलीवरी के बाद और डिस्चार्ज से पहले महिलाओं को वैक्सीन लगाई गई है या नहीं इसकी जानकारी भी ली।

डॉ. गिडियन बीएमओ व स्टाफ के साथ राहतगढ़ के मंडी वार्ड में गईं। यहां एसडीएम, टीआई व सीएमओ भी साथ थे। राहतगढ़ के शहर मुफ्ती और हजरत साहब से चर्चा कर लोगों को वैक्सीन के सेकंड डोज के लिए प्रेरित किया। उन्होंने दूसरे डोज व गर्भवती महिलाओं व स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी शतप्रतिशत वैक्सीन लगवाने की गुजारिश की। दो-तीन घरों में जाकर समझाइश दी, जिसके फलस्वरूप 2 महिलाओं ने उसी समय दूसरा डोज लगवाया। इसी दौरान पीएचसी सिहोरा व सब सेंटर पाटन का भी निरिक्षण किया। कमियां मिलने पर उन्हें दूर करने का आश्वासन भी उन्होंने दिया।

खबरें और भी हैं...