खेल / एक तरफ हो रहे फुटबाल के गोल, दूसरी तरफ लग रहे क्रिकेट के चौके-छक्के

X

  • खिलाड़ियों ने शुरू की फुटबाल और क्रिकेट की प्रैक्टिस, ताकि बनी रहे लय

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

सागर. कजलीवन मैदान पर खिलाड़ियों ने फुटबाल और क्रिकेट की प्रैक्टिस शुरू कर दी है। यहां पर कोई अधिकारिक मैच तो नहीं खेले जा रहे हैं लेकिन खिलाड़ी रोज सुबह-शाम प्रैक्टिस मैच खेलने पहुंच रहे हैं। जिसमें पूर्व के वर्षों से खेलने आ रहे खिलाड़ियों के साथ ही ऐसे खिलाड़ी भी शामिल हैं, जो हाल ही में इन खेलों से जुड़े हैं। ऐसे में वरिष्ठ या पूर्व खिलाड़ी जहां अपनी लय को वापस लाने के साथ ही खेल को तलाशने में जुटे हुए हैं। वहीं नए खिलाड़ी वरिष्ठ खिलाड़ियों से क्रिकेट और फुटबाल की बारीकियां सीख रहे हैं।

कोरोना के संक्रमण को देखते हुए खिलाड़ी जोश के बीच हुई भी होश दिखा रहे हैं। इसीलिए फुटबाल के मैच में जब कोई खिलाड़ी गोल कर देता है या शानदार मूव बनाता है, तब न कोई गले लग कर एक दूसरे को बधाई देता है। न ही इसका जश्न इस प्रकार से मनाया जाता है कि खिलाड़ी एक दूसरे के बेहद करीब आ जाएं। इसी प्रकार क्रिकेट मैच में चौके-छक्के लगने पर भी खिलाड़ी एक दूसरे को दूर से ही उत्साहवर्धन कर देते हैं। कैच पकड़ने या विकेट लेने पर पहले की तरह दौड़कर गले लगाने या हाथ मिलाने जैसी परंपरा यहां नहीं दिखाई दे रही है।

लापरवाही भी : मास्क का नहीं रख रहे ध्यान दर्शक भी जुट रहे- एक तरफ जहां खिलाड़ी एक दूसरे का ख्याल रखते हुए सोशल डिस्टेंस के तहत फुटबाल और क्रिकेट जैसे खेल खेल रहे हैं। वही दूसरी तरफ यह खिलाड़ी मास्क भी नहीं लगा रहे हैं। जो कि कोरोना के संक्रमण को देखते हुए घातक भी साबित हो सकता है। इसी के साथ यहां पर दर्शक भी जुटने लगे हैं। जो लापरवाही के साथ भीड़ जुटाकर मैच देखने में लगे रहते हैं जिनमें से कई मास्क भी नहीं लगाते।

नए खिलाड़ी को एंट्री तभी जब 4 दिन मैदान के बाहर बैठे, सबको लगे कि इसमें कोरोना के लक्षण नहीं है

फुटबाल खिलाड़ी मोहम्मद जीशान, फीरोज, अजहर आदि  ने बताया कि हम लोग सोशल डिस्टेंस के साथ फुटबाल की प्रैक्टिस करते हैं। खास बात यह है कि हमने करीब 20 खिलाड़ियों को तय कर लिया है। वही रोज प्रैक्टिस करने आ रहे हैं। ऐसा इसलिए ताकि अन्य कोई खिलाड़ी ऐसा न आ जाए जो जिससे हम अपरिचित हों या जो बीमार हो और उसके कारण अन्य खिलाड़ी खतरे में पड़ जाएं। यदि किसी नए खिलाड़ी को खेल में शामिल होना भी है तो उसके लिए भी नियम बनाया है। ऐसे खिलाड़ी को करीब 4 दिन तक मैदान पर ही बाहर बैठकर यह साबित करना पड़ेगा कि वह स्वस्थ है, उसमें कोरोना के किसी भी तरह के कोई लक्षण नहीं हैं। उसी के बाद हम हम उसे खेल में शामिल करेंगे। क्रिकेट खेल रहे गोलू मिश्रा ने बताया हम सिर्फ परिचितों के साथ ही खेल रहे हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना