पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चांदी की तस्करी:जमानत पर छूटे संदेहियाें से जीएसटी की टीम ने की पूछताछ, बिल पेश किए

सागरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आगरा से बिना बिल के लाए गए 1 कराेड़ 45 लाख की चांदी के जेवराें के मामले में जीएसटी की टीम ने तस्करी के तीनाें संदेहियाें काे शुक्रवार देर रात घर से बुलाकर माेतीनगर थाने में पूछताछ की। माेतीनगर पुलिस द्वारा चांदी तस्करी संदेह के ताैर पर सीआरपीसी की धारा 102 के तहत हिरासत में लिए गए विमल पिता धर्मचंद जैन (45) निवासी सूबेदार वार्ड, उनका रिश्तेदार राहुल पिता प्रदीप जैन (22) निवासी जरुआखेड़ा तथा ड्राइवर रिजवान पिता सुलेमान मोहम्मद (36) निवासी सूबेदार वार्ड काे जमानत पर छाेड़ दिया था। जानकारी के अनुसार चांदी के जेवर के संबंध में जीएसटी काे कुछ बिल पेश किए गए हैं। इसके पहले आयकर विभाग इनसे पूछताछ कर चुका है। आयकर चाेरी का अभी खुलासा नहीं हुआ।

टैक्स जमा न करने पर हाे सकती है सजा
संदेहियाें से पूछताछ करने पहुंची जीएसटी की टीम के सदस्य नवीन दुबे ने बताया कि आगरा से लाई गई चांदी के संबंध में बिल मांगे गए हैं। इसी आधार पर जीएसटी का आकलन हाेगा। टैक्स निर्धारण के बाद समय सीमा में उसे न चुकाने पर धारा 68 के तहत सजा का प्रावधान है।

खबरें और भी हैं...