• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Hey Sanjay (public) Here Is The Drive War... 8.75 Crore Tenders Done Yet Construction Not Started

निगम की लापरवाही:हे संजय (जनता) यहां ड्राइव युद्ध है... 8.75 करोड़ के टेंडर किए फिर भी निर्माण शुरू नहीं

सागर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गड्‌ढे भरने के लिए बड़े पत्थर डाल दिए, कीचड़ से वाहन फिसल रहे। - Dainik Bhaskar
गड्‌ढे भरने के लिए बड़े पत्थर डाल दिए, कीचड़ से वाहन फिसल रहे।
  • 2 किमी की सड़क जर्जर, आधे शहर की फजीहत

संजय ड्राइव सड़क निर्माण को लेकर दिखाई गई जल्दबाजी में नगर निगम खुद उलझकर रह गया है। अभी सड़क का बीचों-बीच स्थिति हिस्सा ही बना है, जबकि शुरुआती और अंतिम छोर का हिस्सा अभी भी खराब है। पिछले दिनों इस सड़क के निर्माण को लेकर स्मार्ट सिटी ने 8.75 करोड़ रुपए का टेंडर जारी कर दिया है, फिर भी अभी तक इसका काम शुरू नहीं हो पाया है। लोगों पहले धूल से परेशान थे तो अब यहां बारिश से पानी से भरे गड्‌ढों से हैं। इसी के देखते हुए यहां गड्ढ़ों में बड़े-बड़े वोल्डर भी डाल दिए गए, जिनसे लोग और भी परेशान हो रहे हैं।

शहर की आधी आबादी को जोड़ने वाली इस सड़क का 2 साल पहले 670 मीटर का हिस्सा ही बन पाया था, जबकि अब स्मार्ट सिटी शुरुआत और सड़क के अंतिम छोर तक सड़क का निर्माण करेगा। नगर निगम को पीडब्ल्यूडी ने 4 साल पहले इस सड़क को निगम के लिए हैंडओवर किया है।

बारिश की वजह से जर्जर हो चुकी 2 किलोमीटर की इस सड़क का काम वर्ष 2019 में मुख्यमंत्री अंधोसंरचना के माध्यम से किया गया। नगर निगम ने पहले 1300 मीटर के हिस्से की ही टेंडर किए। जिसकी चौड़ाई 3 मीटर थी, लेकिन सड़क पर हैवी ट्रैफिक के चलते इसकी चौड़ाई 7 मीटर (पाथ-वे) के साथ कर दी गई।

इससे सड़क का 670 मीटर का ही हिस्सा बन पाया। अब बचे हुए हिस्से को स्मार्ट सिटी 12 मीटर चौड़ाई (पाथ-वे) के साथ निर्माण करेगी। इसमें ऐसी 8 मीटर की सड़क और 2-2 मीटर के दोनों ओर पाथ-वे और स्ट्रीट लाइट लगाई जाना है।

स्मार्ट सिटी बनाएगी यह सड़क

पहला हिस्सा -चैतन्य हॉस्पिटल से संजय ड्राइव पुल
400 मीटर की इस सड़क में गड्‌ढों के भरने के लिए बोल्डर (बड़े-बड़े पत्थर) डाल दिए हैं। जिन से वाहन चालक और भी परेशान हो रहे हैं।

बीच का हिस्सा- संजय ड्राइव पुल से पंडापुरा पुल के पहले
670 मीटर के हिस्से का काम पूरा हो गया है। कुल चौड़ाई 7 मीटर है। जिसमें 4.25 मीटर सीसी सड़क और 1.5-1.5 मीटर के पाथ वे शामिल है। जिसके पुराने पाथ-वे को तोड़ा जा रहा है।

अंतिम हिस्सा - पंडापुरा पुल से बीड़ी अस्पताल तक: 1130 मीटर के इस हिस्से में चौड़ाई और कर्व है। पूरी सड़क बुरी तरह जर्जर है। जिस पर कई बार दुर्घटनाएं भी हो चुकी हैं। यहां इतनी भी जगह नहीं कि एक साथ दो बसे आसानी से निकल सकें।

पहले धूल तो अब कीचड़ से परेशान रहवासी

संजय ड्राइव की सड़क शहर की व्ययस्तम सड़क है। इसका उपयोग एंबुलेंस, भोपाल से आने-जाने वाले वाहन समेत कई कालोनी के रहवासी इस सड़क का उपयोग करते है। इतना ही नहीं, तीन बत्ती से कोतवाली की ओर वन-वे होने की वजह से कई वाहन आउटर के लिए इसी का उपयोग करते हैं। कुछ दिनों पहले तक लोग धूल से परेशान थे तो अब गड्‌ढों में भरे बरसाती पानी से परेशान है।

लोगों की सुविधा के लिए सड़क का काम जल्द होगा

सड़क निर्माण को लेकर टेंडर जारी हो चुके हैं। लगातार हो रही बारिश की वजह से निर्माण में देरी हो रही थी, लेकिन अब जल्द ही इसका काम शुरू किया जाएगा। हाल में लोगों की परेशानियों को देखते हुए गड्‌ढे भरवाए गए थे।

- आरपी अहिरवार, निगमायुक्त, सागर

खबरें और भी हैं...