पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Husband Used To Quarrel Often, So Devrani Had Left The House With Jethani On The Pretext Of Marriage In A Good Family, The Accused Raped

देवरानी से गैंगरेप, जेठानी को बेचा:कपल की करतूत; सागर में अपने-अपने पति से परेशान देवरानी-जेठानी को दूसरी शादी का झांसा देकर ले गए, एक दुष्कर्म के बाद छूटी, दूसरी लापता

सागर2 महीने पहले
मामले में कार्रवाई की मांग को लेकर थाने पहुंचे ग्रामीण।

सागर के महाराजपुर थाना क्षेत्र के एक गांव के एक ही घर की दो महिलाओं (देवरानी-जेठानी) को अच्छे घरों में शादी कराने का झांसा देकर साथ ले जाने और दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पुलिस ने पीड़ित देवरानी को बरामद कर लिया है। जेठानी की तलाश की जा रही है।

महाराजपुर थाना क्षेत्र से 20 और 30 साल की देवरानी और जेठानी अपने घर से एक साथ गायब हुई थीं। परिवार वालों ने तलाश किया, लेकिन नहीं मिलीं। थाने में पहुंचकर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसके बाद पुलिस ने देवरानी को विदिशा जिले से दस्तयाब किया था। कार्रवाई के दौरान महिला ने कुछ नहीं कहा, लेकिन बाद में परिवार वालों को आपबीती बताई। इसके बाद मंगलवार को पीड़ित पक्ष ने ग्रामीणों के साथ थाने पहुंचकर मामले में शिकायत दर्ज कराई।

रास्ते में बस से उतारा और जंगल में ले जाकर किया दुष्कर्म
देवरानी ने बताया कि पड़ोस में रहने वाली आरोपी कल्पना चढ़ार और उसका पति कैलाश मुझे और मेरी जेठानी को अच्छे घर में शादी कराने का झांसा देकर अपने साथ ले गए थे। क्योंकि हमारे पति आए दिन झगड़ा करते थे। इसी के चलते हम लोग कल्पना की बातों में आ गए। 7 जुलाई को उसने हमें परिवार के खिलाफ भड़काया। इसके बाद हम बातों में आकर जेठानी के साथ सागर पहुंचे। यहां कल्पना का मामा रामदयाल और राजेश मिला। वो हम दोनों को अपने साथ सैदपुर विदिशा ले गए। वहां दो दिन रखा।

तीसरे दिन जेठानी को रामदयाल लेकर कहीं चला गया। तीन दिन तक कोई नहीं आया तो मैंने कल्पना को फोन लगाकर पूछा तो वो बोली उसे अच्छी जगह सेट कर दिया है। अब तुम्हें भी ले जाएंगे। इसी बीच रामदयाल घर लौटा तो उससे जेठानी के संबंध में पूछा तो वो बोला राजस्थान में बेच दिया।

संदेह होने पर मौका पाकर बस में बैठकर मैं सागर के लिए निकली, लेकिन रास्ते में कैलाश और कन्हैया ने मुझे बस से उतार लिया। उन्होंने जंगल में ले जाकर जबरदस्ती दुष्कर्म किया और वापस सैदपुर ले गए। इसी बीच 17 जुलाई को मेरे जेठ पुलिस के साथ आए और मुझे घर लेकर आए।

एसडीओपी पूजा शर्मा ने बताया कि मामले में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की गई थी। 17 जुलाई को महिला को दस्तयाब किया गया था, लेकिन उस समय उसने कुछ नहीं कहा था। महिला ने अपने परिवार वालों को मामले की जानकारी दी। इसके बाद महिला की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ दुष्कर्म समेत अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है।

खबरें और भी हैं...