पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • In Luharguwan Village, The Infected Youth Served Food In The Pangat, Danced Heavily In The Procession, The Villagers Were Deteriorated By Investigation, 40 Out Of 60 Corona Positive, The Administration Sealed The Village

MP में संक्रमण की 'शादी':संक्रमित युवक ने शादी में खाना परोसा, दूसरे दिन बारात में डांस किया, तबीयत बिगड़ने पर ग्रामीणों ने जांच कराई, 60 में से 40 पॉजिटिव

टीकमगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शादी समारोह में शामिल हुआ संक्रमित युवक।  - Dainik Bhaskar
शादी समारोह में शामिल हुआ संक्रमित युवक। 
  • निवाड़ी जिले में संक्रमित आने पर युवक को आइसोलेट नहीं किया था

मध्यप्रदेश के निवाड़ी जिले में प्रशासन ने शादियों में 10 लोगों को ही शामिल करने को मंजूरी दी है। बावजूद लोग नहीं मान रहे। ऐसा ही मामला निवाड़ी जिले में पृथ्वीपुर के ग्राम लुहरगुवां में सामने आया। यहां युवक की शादी में एक संक्रमित युवक भी शामिल हुआ। उसने पहले दिन पंगत में खाना परोसा। दूसरे दिन बारात में शामिल हुआ। बाद में जब लोगों की तबीयत बिगड़ी तो जांच कराई। इसमें 60 में से 40 लोग संक्रमित निकले। प्रशासन ने अब गांव को सील कर दिया है। साथ ही, दूसरे लोगों की भी जांच कराई जा रही है।

लुहरगुवां गांव में 27 अप्रैल को अरुण मिश्रा (24) की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। बावजूद उसे होम आइसोलेट नहीं कराया गया। वह 29 अप्रैल को गांव में हुए विवाह समारोह में भी शामिल हुआ। पंगत में खाना भी परोसा। दूसरे दिन 30 अप्रैल को लुहरगुवां से उप्र के ललितपुर के भुचेरा गांव में बारात में भी शामिल हुआ।

यहां सभी के साथ डांस किया। वरमाला के समय दूूल्हा-दुल्हन के साथ फोटो खिंचवाई। 1 मई को बरात गांव वापस लौटी। इसके बाद संक्रमित युवक गांव में घूमता रहा। इसी बीच, गांव के लोगों की तबीयत बिगड़ने लगी। 60 से अधिक लोगों ने कोरोना की जांच कराई। इसमें करीब 40 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। खबर लगते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया।

गांव के रास्तों को सील कर पुलिस बल तैनात किया गया।
गांव के रास्तों को सील कर पुलिस बल तैनात किया गया।

गांव रेड जोन घोषित, सभी रास्ते किए बंद, पुलिस तैनात

गांव में संक्रमण फैलने की सूचना पर निवाड़ी कलेक्टर आशीष भार्गव ने लुहरगुवां गांव को रेड जोन घोषित कर दिया। बुधवार को पृथ्वीपुर एसडीएम तरुण जैन के साथ तहसीलदार व अन्य कर्मचारी गांव पहुंचे। गांव के सभी रास्तों को लकड़ियां लगाकर बंद किया गया। रास्तों पर लोगों की आवाजाही प्रतिबंधित की गई। सुरक्षा के लिहाज से पुलिस बल तैनात किया गया, ताकि कोई भी ग्रामीण घर से बाहर न घूम सके।

प्रशासन की भी लापरवाही

मामले में ग्रामीण स्तर पर प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं। क्योंकि युवक ने पास के स्वास्थ्य केंद्र पर 24 अप्रैल को सैंपल दिया था। इसके बाद 27 अप्रैल को रिपोर्ट आई। इसके बाद भी युवक का फीडबैक नहीं लिया गया। ना ही युवक को दवाइयां दी गईं। अब निवाड़ी कलेक्टर ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

संक्रमित के मोहल्ले में 20 से अधिक पॉजिटिव

युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद किसी को जानकारी नहीं दी गई। इसी कारण गांव में संक्रमण फैला। स्थिति यह है, संक्रमित युवक के मोहल्ले में 20 से अधिक लोग चपेट में आए हैं। गांव में टीमें मरीजों को दवाएं बांट रही हैं।

खबरें और भी हैं...