पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • In The Last One Month, 11 Dengue Patients Were Treated In BMC, But The Information Was Not Sent To The Malaria Department

​​​​​​​बीमारी में लापरवाही:पिछले एक माह में डेंगू के 11 मरीजों का बीएमसी में हुआ इलाज, लेकिन मलेरिया विभाग को नहीं भेजी जानकारी

सागर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सागर| श्रीराम कालोनी में खाली पड़े प्लाॅटों में भरा बारिश का पानी। - Dainik Bhaskar
सागर| श्रीराम कालोनी में खाली पड़े प्लाॅटों में भरा बारिश का पानी।
  • रविवार को सामने आए 11 मरीज पुराने, इनका इलाज भी हो चुका, सागर में अब 40 मरीज

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में पिछले एक माह में 11 पॉजिटिव मरीजों का इलाज हुआ है। लेकिन इनके पॉजिटिव होने की पुष्टि इसलिए नहीं हो सकी, क्योंकि इनकी रिपोर्ट मलेरिया विभाग तक नहीं पहुंची। यही स्थिति शहर के अन्य निजी अस्पतालों की भी है, जहां डेंगू मरीजों का इलाज तो किया जा रहा है, लेकिन मरीजों की जानकारी मलेरिया विभाग तक नहीं पहुंच रही।

नतीजा आंकड़ों अब तक जिले के 29 मरीज ही डेंगू ग्रस्त बताए जा रहे हैं। बीएमसी से मिली जानकारी के अनुसार पिछले एक माह में जिन 11 मरीजों को डेंगू का इलाज दिया गया, उनमें सोरई गांव निवासी 13 वर्षीय बालक, मडिय़ा विट्ठलनगर निवासी 4 वर्षीय बालक, देवरी निवासी 9-9 वर्षीय दो बालक, गंभीरिया निवासी 19 वर्षीय युवती, लाजपतपुरा निवासी 20 वर्षीय युवक, जैसीनगर निवासी 26 वर्षीय युवती, महाकाली वार्ड निवासी 9 वर्षीय बालिका, जेएनपीए परकोटा निवासी 15 वर्षीय बालक, पुरव्याउ निवासी 22 वर्षीय युवती व बंडा निवासी 7 वर्षीय बालक शामिल हैं।

इन्हें मिलाकर सागर में डेंगू संक्रमित मरीजों का आंकड़ा अब 40 पर पहुंच गया है। मामले में जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. एलएस शाक्य का कहना है कि बीएमसी प्रबंधन की ओर से डेंगू पॉजीटिव मरीजों की जानकारी नहीं दी जा रही है। इसलिए 11 नए मरीजों का आंकड़ा मेरे पास नहीं है।

विभाग ने जारी की जीका, डेंगू और चिकनगुनिया से बचाव की एडवायरी

  • जीका, डेंगू, चिकनगुनिया रोग संक्रमित एडीज मच्छर के काटने से फैलता है।
  • एडीज मच्छर का लार्वा घरेलू पानी की टंकियों, कूलर, खुले बर्तन, मटके, पुराने टायर, गमले और बगीचे आदि में एकत्रित पानी में पैदा होता है।
  • बारिश के पानी को घर और आसपास जमा न होने दें।
  • एडीज मच्छर घर के अंदर अंधेरे व ठंडे स्थानों में रहता है।
  • एडीज मच्छर दिन के समय काटता है। इससे बचने के लिए पूरी बाह के कपड़े पहनें।
  • घरों में मच्छरदानी का इस्तेमाल करें। खिड़की व दरवाजों में मच्छर रोधी जाली लगवाएं।
  • मच्छर के काटने से बचाव के लिए क्रीम, क्वाइल, रिपेलेंट आदि का इस्तेमाल करें।
  • दवा का सेवन चिकित्सक की सलाह से ही करें।
खबरें और भी हैं...