पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोराेना का असर:चर्च के अंदर निकली खजूर रैली, शबे बारात पर घर में ही की गई इबादत

सागरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रोटेस्टेंट समुदाय के सेन्ट पॉल ईएल चर्च और सेंट पीटर चर्च में रविवार को पाम संडे मनाया गया। इस मौके पर चर्च के अंदर ही खजूर रैलियां निकाली गई। साथ ही फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए दो पालियों में आराधना सभा का आयोजन किया गया। इधर मुस्लिम समुदाय ने रात 10 बजे से पहले ही कब्रिस्तान में फातिहा पढ़ा और रात में घरों में इबादत की।

मध्यप्रदेश कैथोलिक काउंसिल के उपाध्यक्ष एफएक्स जेम्स ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के कारण इस साल सेंट मेरी चर्च में प्रार्थना सभा का आयोजन नहीं किया गया। यहां के मसीही श्रद्धालु संत कैथेड्रल चर्च में ही प्रार्थना सभा में खजूर की डालियां लेकर शामिल हुए। इसके अलावा चर्चों में खजूर रैली भी नहीं निकाली गई।

ज्योति भवन तहसीली में फादर जोसेफ, संत कैथेड्रल चर्च में बिशप जेम्स, फादर सेबेस्टियन, फादर इम्मानुएल, फादर साबू, फादर पॉल तथा अन्य फादरों ने प्रार्थना कराई। श्यामपुरा चर्च में फादर रेजी, फादर एंटो तथा फादर अन्थन ने प्रार्थना कराकर पाम संडे का महत्व बताया।

दो पालियों में हुई प्रार्थना, चर्च के अंदर ही निकली खजूर रैली
सेंट पॉल ईएल चर्च के सचिव ईवाय कुमार ने बताया कि खजूर रविवार (पाम संडे ) पर समाज के लोगों ने चर्च के अंदर ही रैली निकाली। इसके बाद दो पालियों में प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। ताकि फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जा सके। आराधना का संचालन पास्टर जयंत सिंह मैथ्यू, पास्टर ईशा स्मिता क्रिस्टोफर ने किया। मुख्यवक्ता पास्टर आशीष खंडेलवाल (देहरादून) थे। उन्होंने खजूर रविवार का महत्व बताते हुए कहा कि जिस प्रकार से हम खजूर की डालियों को सजाते, तैयार करते हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें