• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Neither The Encroachment Removed From The Bus Stand Nor The Shed In Front Of The Shops, A Separate Corner Was Not Even Made For Women.

अनदेखी से समस्या:बस स्टैंड से न अतिक्रमण हटा न दुकानों के आगे से शेड, महिलाओं के लिए अलग से कॉर्नर भी नहीं बना

सागर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सागर| अलग से कॉर्नर न होने के कारण बस स्टैंड पर महिला यात्रियों को अभी इस तरह पुरुष यात्रियों के साथ ही कुर्सियों पर बैठना पड़ रहा है। - Dainik Bhaskar
सागर| अलग से कॉर्नर न होने के कारण बस स्टैंड पर महिला यात्रियों को अभी इस तरह पुरुष यात्रियों के साथ ही कुर्सियों पर बैठना पड़ रहा है।

शहर के मुख्य सरकारी बस स्टैंड पर सुविधाएं बढ़ाने तीन माह पहले कलेक्टर दीपक सिंह ने बस स्टैंड आरटीओ से लेकर नगर निगम को हैंडओवर किया था। ताकि बस स्टैंड का व्यवस्थित संचालन हो और यात्रियों व दुकानदारों को बेहतर सुविधाएं मिलें। लेकिन पिछले तीन माह में न तो महिला यात्रियों को बैठने के लिए अलग से कॉर्नर बन पाया है और न ही दुकानों के आगे से अतिक्रमण हटा है।

रात होते ही बस स्टैंड पर आसामाजिक तत्वों का जमावड़ा अभी भी लगा रहता है। जो देर रात तक वहीं जमे रहते हैं। इनसे विशेष तौर पर महिला यात्रियों को असुरक्षा महसूस होती है। इन्हें हटाने के लिए पर्याप्त पुलिस बल व गार्ड की व्यवस्था भी नहीं की गई है।

महिला यात्रियों को बैठने अलग से कोई व्यवस्था नहीं
बस स्टैंड से हर दिन करीब साढ़े तीन हजार यात्री सफर करते हैं। इनमें महिलाएं व बच्चे भी शामिल हैं। आयुक्त ने महिला यात्रियों व बच्चों की सुरक्षा के लिए बस स्टैंड पर निगम द्वारा महिलाओं के लिए अलग से कॉर्नर बनाए जाने के निर्देश दिए थे। इसके साथ ही सिटिंग व्यवस्था भी दुरुस्त करने के लिए कहा था, लेकिन अब तक महिला यात्रियों के लिए अलग से कॉर्नर नहीं बनाया गया। पुरुष यात्रियों की भीड़ में ही महिला यात्रियों को बैठना पड़ता है। छोटे बच्चे साथ में होने से कई बार उन्हें दिक्कत होती है।

कुछ दुकानदारों को निगम ने दिए नोटिस
निगम को बस स्टैंड हैंडओवर होने के बाद आयुक्त आरपी अहिरवार ने परिसर में स्थित अस्थाई दुकानों को हटाने के निर्देश दिए थे। साथ ही जिन दुकानदारों ने दुकान के सामने अस्थाई अतिक्रमण कर शेड लगा लिए हैं। उन्हें भी तत्काल हटाया जाना था, लेकिन तीन माह बीतने के बाद भी अब तक इस तरह की कोई कार्रवाई नहीं की गई है। हालांकि निगम की ओर से कुछ दुकानदारों को नोटिस जरूर दिए गए हैं।

निर्देश: गंदगी फैलाने पर चालानी कार्रवाई करें
निगम को बस स्टैंड हैंडओवर किए जाने के बाद सफाई व लाइटिंग में सुधार हुआ है। निगम के पास पर्याप्त सफाई कर्मचारी होने से सफाई व्यवस्था पहले से दुरुस्त हुई है। इसके साथ ही निगम ने कुछ समय पहले बस स्टैंड परिसर में लाइटिंग भी बढ़ाई है। हालांकि जो एलईडी बल्ब लगाए गए थे। उनमें से कुछ फ्यूज हो गए हैं। आयुक्त ने बस स्टैंड परिसर में गंदगी फैलाने वालों पर चालानी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इससे दुकानदार भी अब ज्यादा कचरा यहां-वहां नहीं फेंकते।

दस्तावेज और किराया संबंधी जानकारी मांगी है
कुछ दुकानदारों को चिंहित कर नोटिस दिए गए हैं। उनसे दुकान के दस्तावेज व किराये जमा करने के संबंध में जानकारी मांगी गई है। जल्द ही अतिक्रमण व अस्थाई शेड हटाए जाने की कार्रवाई की जाएगी। महिलाओं के लिए अलग से कॉर्नर बनाने प्लानिंग चल रही है।
- डॉ. पीके खरे, उपायुक्त, नगर निगम

खबरें और भी हैं...