पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वृक्ष के नीचे विवाद के कल्प:किसके कहने पर विस्थापित की जा रही थी मढ़िया? कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश

सागरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दूसरे दिन भी पहुंचे हिंदुवादी संगठन, भाजपा-कांग्रेस ने की बयानबाजी

नए कलेक्टोरेट परिसर में कल्प वृक्ष के नीचे से श्री हनुमानजी की मढ़िया हटाने से उपजे विवाद की गरमाहट शुक्रवार को भी जारी रही। सत्ताधारी दल भाजपा और विपक्षी कांग्रेस दोनों ने ही घटनाक्रम को लेकर प्रशासन पर दबाव बनाने की कोशिश की। भाजपा, शिवसेना, विहिप, धर्म रक्षा संगठन ने एकजुट होकर जिला प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपा। वहीं जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नरेश जैन ने बयान जारी कर इस घटनाक्रम को सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने की साजिश बताया। इधर इस बवाल को लेकर जिला प्रशासन सहमी सी हालत में रहा। अफसर घटनाक्रम के पीछे के कारणों को बताने से परहेज करते दिखे। हालांकि कलेक्टर ने कहा- कल्पवृक्ष के नीचे मंदिर यथावत रखा जाएगा।

तोड़फोड़ से सुरक्षा इंतजामों की पोल खुली- कांग्रेस
जिला कांग्रेस कमेटी सागर ग्रामीण के अध्यक्ष नरेशचंद्र जैन ने कहा- कलेक्टोरेट में तोड़फोड़ जिले के सुरक्षा इंतजामों की पोल खोलती है। इससे ये भी जाहिर हाेता है कि जन विरोधी सांप्रादायिक ताकत अशांति फैलाने का षड़यंत्र रच रही हैं। जैन ने कहा कि कल्पवृक्ष धार्मिक आस्थाओं से जुड़ा है। इसे संरक्षण देने के लिए लघु मंदिर का स्वरूप दिया था। इसके साथ छेड़छाड़ गंभीर अपराध है। कांग्रेस की मांग है कि ये घटनाक्रम कैसे और किसके इशारे पर हुआ। इसकी जांच नगर के गणमान्य नागरिकों की कमेटी करें।

चोरी से मूर्ति विस्थापित करने की कोशिश करना निंदनीय- जिला भाजपा
जिला प्रशासन द्वारा चोरी छिपे कलेक्ट्रेट परिसर में कल्पवृक्ष के नीचे विराजमान हनुमान प्रतिमा को विस्थापित करने का प्रयास करते समय हनुमान की प्रतिमा खंडित होने से सर्व हिन्दू समाज की भावनाएं आहत हुई हैं। रात के अंधेरे में चोरी से मूर्ति विस्थापित करना और मूर्ति खंडित करना निंदनीय हैं। जिला भाजपा ने जिले के तीनों मंत्रियों सहित अन्य जनप्रतिनिधियों को भी इस संबंध में अवगत कराकर मुख्यमंत्री द्वारा दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग करेगी। जिलाध्यक्ष गौरव सिरोठिया ने कहा कि अब मंदिर तोड़ने वाली नहीं बल्कि मंदिर बनाने वाली सरकार है।

कल्पवृक्ष के नीचे यथावत रहेगा मंदिर
कल्पवृक्ष के नीचे मंदिर विवाद को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों की जांच समिति बना दी है। जल्द ही जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। साथ ही कल्पवृक्ष के संरक्षण के लिए वन विभाग को निर्देशित किया है। कल्पवृक्ष के नीचे स्थापित मंदिर को यथावत रहेगा। कलेक्टर कार्यालय की मंदिर संरक्षण कमेटी के धर्म गुरुओं के अनुसार पूजा अर्चना सुनिश्चित करेंगे। - दीपकसिंह, कलेक्टर, सागर

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें