• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Permission From RERA Registration And Town And Country Planning, Development Fee Of NAPA Was Not Paid And Settled Illegal Colony

5 अवैध कॉलोनाइजर पर FIR:रेरा का रजिस्ट्रेशन और न टाउन एंड कंट्री प्लानिंग से ली अनुमति, नपा का विकास शुल्क भी नहीं भरा और बसा दी अवैध कॉलोनी

सागर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

भू-माफिया मुक्त अभियान के तहत बीना में 5 कॉलोनाइजर पर FIR दर्ज की गई है। इन पर लोगों को सर्व सुविधायुक्त कॉलोनी बसाने के सपने दिखाकर अवैध रूप से प्लॉट बेचने के आरोप लगे हैं। पांचों कॉलोनाइजर ने नगर पालिका की अनुमति के बिना कॉलोनी बसाई और सड़क, पानी, बिजली, पार्क की सुविधा के बिना ही लोगों के साथ धोखाधड़ी कर प्लॉट बेच दिए। सुविधाएं न मिलने से अब कॉलोनी में रहने वाले लोग परेशान हो रहे हैं। नगर पालिका के जांच प्रतिवेदन के आधार पर बीना पुलिस ने कॉलोनाइजर के खिलाफ धारा 420 व नगर पालिक एक्ट की धारा 399 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

इन पर दर्ज हुआ केस

  • विनोद कुमार पिता कोमल चंद सिंघई निवासी पाठक वार्ड बीना
  • देवेंद्र सिंह पिता गुलाब सिंह ठाकुर निवासी बीना
  • मोहम्मद असगर पिता आसिफ कुरैशी निवासी शास्त्री वार्ड, बीना
  • अशोक पिता आसनदास मेठवानी निवासी गांधी वार्ड, बीना
  • एसआर सिंह पिता बीआर सिंह निवासी सागर

रेरा का पंजीयन व मूलभूत सुविधाएं तक नहीं मिली

नगर पालिका इंजीनियर विवेक ठाकुर ने बताया, इन कॉलोनाइजर के पास टाउन एंड कंट्री प्लानिंग की NOC नहीं पाई गई। नगर पालिका से कॉलोनी बसाने की अनुमति नहीं ली और विकास शुल्क भी जमा नहीं किया। कॉलोनी बचाने के लिए इनके पास रेरा का पंजीयन भी नहीं था। कॉलोनी में पक्की सड़कें, नालियां, स्ट्रीट लाइट, पानी, पार्क व अन्य मूलभूत सुविधाएं भी नहीं मिली। कहीं भी प्लॉट काटकर लोगों को बिना सुविधाओं के ही बेच दिए।

नगर पालिका आरआई प्रताप सिंह ने बताया कि सीएमओ रामवरण राजौरिया से निर्देश मिलने के बाद अवैध कॉलोनियों की जांच की गई थी। पिछले एक माह से जांच के बाद इंजीनियर द्वारा रिपोर्ट प्रस्तुत की गई। फिर प्रतिवेदन बनाकर थाने में FIR कराई गई है।

खबरें और भी हैं...