पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संक्रमण का स्तर हुआ कम:रिकवरी रेट 91.72%, बस 0.6% संक्रमण कम हो तो अनलॉक होगा हमारा शहर

सागर19 दिन पहलेलेखक: श्रीकांत त्रिपाठी
  • कॉपी लिंक
सागर। शनिवार को कोरोना कर्फ्यू में सख्ती के चलते सिविल लाइन में सन्नाटा रहा। ड्रोन फोटो- हर्ष सरवैया - Dainik Bhaskar
सागर। शनिवार को कोरोना कर्फ्यू में सख्ती के चलते सिविल लाइन में सन्नाटा रहा। ड्रोन फोटो- हर्ष सरवैया

कोरोना के संक्रमण की दर 5 फीसदी से ज्यादा होने के कारण भले ही सागर जिला रेड जोन में है लेकिन हकीकत यह है कि जिले में अप्रैल की तुलना में संक्रमण का स्तर काफी कम हुआ है। चाहे पॉजिटिव रेट की बात करें या सरकारी व निजी अस्पतालों में भर्ती मरीजों की या फिर एक्टिव मरीजों की।

हर स्तर पर 70 से 80 फीसदी तक की कमी आई है। हमने संक्रमण की स्थिति को समझाने के लिए 10 इंडिकेटर में विभाजित किया है। इस दौरान सामने आया कि रेड जोन में मौजूद नगर निगम के वार्ड और ग्राम पंचायतों पर अफसरों को ध्यान देने की जरूरत है। यदि लॉकडाउन में ऐसी ही सख्ती रही तो 1 जून तक सागर की स्थिति बदल सकती है।

इससे रेड जोन के वार्ड और ग्राम पंचायतों को छोड़कर अन्य को लॉकडाउन में छूट का लाभ मिलेगा और लोगों की जिंदगी धीरे-धीरे पहले की तरह पटरी पर लौट आएगी। इसके लिए लोगों का सहयोग भी जरूरी है। इधर शनिवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने जिले के कोविड प्रभारी मंत्री गोपाल भार्गव व कलेक्टर दीपक सिंह से चर्चा की। सीएम ने कहा कि पिछले पांच दिन में संक्रमण को कम करने किए गए प्रयासों को असर दिख रहा है कि अब साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 5% से थोड़ी कम हुई है, लेकिन इसे और नीचे ले जाना है।

अनलॉक को लेकर वार्ड स्तर पर गठित जिले भर की सभी समितियों की रविवार को बैठक होगी। कलेक्टर दीपक सिंह का कहना है कि अप्रैल की तुलना में जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति में काफी सुधार आया है। शहर व गांव के रेड जोन पर सख्ती के साथ संपूर्ण लॉकडाउन का निर्णय लिया गया।

खबरें और भी हैं...