पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Registration Is Available In 24 Hours, Reports Are Received In 3 Days, 1000 Samples Are Pending

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना रिपोर्ट में लेटलतीफी:रजिस्ट्रेशन 24 घंटे में, 3 दिन में मिल रही रिपोर्ट, पेंडिंग हैं 1000 सैंपल

सागर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सागर|बीएमसी की ओपीडी में मरीजों की लाइन लग रही है। कई मरीज मास्क नहीं लगा रहा, सोशल डिस्टेंस भी नहीं है। - Dainik Bhaskar
सागर|बीएमसी की ओपीडी में मरीजों की लाइन लग रही है। कई मरीज मास्क नहीं लगा रहा, सोशल डिस्टेंस भी नहीं है।

कोरोना की जांच के लिए सैंपल देने के 3 दिन बाद लोगों को पॉजिटिव और नेगेटिव की जानकारी फोन पर मिल रही है। रिपोर्ट तो तीसरे दिन भी नहीं मिलती। पहले जहां सैंपल देने के 24 घंटे बाद मोबाइल पर रिपोर्ट का मैसेज आ जाता था, अब 24 घंटे में रजिस्ट्रेशन का भी मैसेज नहीं मिल रहा। कई लोग तो ऐसे हैं, जो रजिस्ट्रेशन के मैसेज का तीन दिन तक इंतजार करते रहे और उन्हें प्रशासन से पॉजिटिव होने का फोन आ गया। वायरोलॉजी लैब में रजिस्ट्रेशन और रिपोर्ट की प्रक्रिया में हो रही इस लेटलतीफी की जानकारी लेने पर सामने आया कि लैब में इस लेटलतीफी की वजह है स्टाफ की कमी।

वायरोलॉजी लैब में सागर समेत संभाग के पांच जिलों के सैंपलों की जांच हो रही है। लेकिन यहां एक दिन में अधिकतम 1500 सैंपल ही जांचें जा रहे हैं। ऐसे में हर दिन करीब एक हजार से अधिक सैंपल पेंडिंग में रहते हैं। वहीं रिपोर्ट और डाटा एंट्री के लिए भी विभाग ने कम्प्यूटर ऑपरेटर मांगें हैं, लेकिन अब तक प्रबंधन की ओर से कोई व्यवस्था नहीं की गई। यही वजह है सैंपलों की कम्प्यूटर में एंट्री और रिपोर्ट बनाने में दो से तीन दिन का समय लग रहा है। लैब के नोडल अधिकारी डॉ. सुमित रावत का कहना है कि अभी हम दो शिफ्टों में काम कर रहे हैं। विभाग के कई लोग संक्रमित भी है।

ऐसी व्यवस्था से बढ़ रही दिक्कत

6 घंटे के भीतर रिपोर्ट देने का था वादा- पहले 24 घंटे में मिलती थी और अब इतना समय तो रजिस्ट्रेशन में ही लग रहा

केस-1; पूर्व महापौर ने रिपोर्ट 4 दिन बाद आने पर सवाल उठाए
पूर्व महापौर ने हाल ही रिपोर्ट की लेटलतीफी को लेकर सवाल उठाए थे। उन्होंंने 31 मार्च को जांच के लिए सैंपल दिया था। जिसके बाद 1 अप्रैल को फोन पर पता चला कि रिपोर्ट नेगेटिव है। लेकिन तीन दिन बाद वायरोलॉजी लैब से मिली सूची में उनका नाम आ गया। यानी सैंपल देने के चार दिन बाद रिपोर्ट की सही जानकारी मिल सकी।

केस-2; दो दिन बाद जांच के रजिस्ट्रेशन का मैसेज मिला
लिंक रोड निवासी 32 वर्षीय युवक ने जानकारी देते हुए बताया कि 3 अप्रैल को उन्होंने पूरे परिवार की सैंपलिंग बीएमसी में कराई थी। जहां से दो दिन बाद रजिस्ट्रेशन का मैसेज आया और तीसरे दिन मैसेज में पता चला कि परिवार में तीन लोग पॉजिटिव है। लेकिन उपचार क्या करना है, भर्ती होना है या होम क्वारेंटाइन इसकी जानकारी उन्हें देर रात तक भी नहीं मिली।

केस-3 ; मैसेज आया पर 24 घंटे बाद भी रजिस्ट्रेशन नहीं
तिली निवासी युवती ने बताया कि 5 अप्रैल को जांच के लिए बीएमसी में सैंपल दिया था। जिसके एक दिन बाद उनके पति के मोबाइल पर रजिस्ट्रेशन नंबर आया है, लेकिन उनका 24 घंटे बाद भी रजिस्ट्रेशन नहीं हो सका। जहां एक दिन के भीतर रिपोर्ट मिलना चाहिए, उतने समय में तो रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया ही हो पा रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें