पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Remedesvir Was Supplying From Medical Stores On Khurai Road, Police Engaged In The Search For A Suspect Named Krishna

जीवनरक्षक की कालाबाजारी:पकड़े गए MR का खुलासा- खुरई रोड के मेडिकल स्टोर्स से सप्लाई कर रहे थे इंजेक्शन, संदेही की तलाश

सागरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी हर्षित केशरवानी।   - Dainik Bhaskar
आरोपी हर्षित केशरवानी।  

कोरोना के गंभीर मरीजों के लिए जरूरी रेमडेसिविर इंजेक्शनों की कालाबाजारी जारी है। कैंट पुलिस ने बुधवार को रेमडेसिविर बेचते MR हर्षित केशरवानी निवासी सदर मुहाल को पकड़ा था।पूछताछ में आरोपी ने इंजेक्शन खुरई रोड के मेडिकल स्टोर्स से उपलब्ध होने की बात कही है। पुलिस मामले में उक्त मेडिकल स्टोर के संबंध में पड़ताल कर रही है। इसके अलावा, पुलिस को मोतीनगर थाना क्षेत्र के युवक की तलाश है, जिससे एमआर का पहला सौदा हुआ था।

सूत्रों के अनुसार ब्लैक में रेमडेसिविर बेचते पकड़ाए एमआर हर्षित ने इससे पहले मोतीनगर थाना क्षेत्र के निवासी कृष्णा नाम के युवक को दो इंजेक्शन बेचे थे, लेकिन कृष्णा काे दूसरी जगह से कम दामों में इंजेक्शन मिल गए। इसके बाद उसने उक्त दो रेमडेसिविर हर्षित को लौटा दिए थे।

मामले में पुलिस आरोपी हर्षित के मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाल रही है। साथ ही, मेडिकल स्टोर और कृष्णा नाम के युवक की तलाश की जा रही है। उधर, पुलिस ने आरोपी हर्षित को कोर्ट पेश कर जेल भेज दिया है। कैंट थाना प्रभारी समरजीत सिंह परिहार ने बताया संदेही कृष्णा से पूछताछ नहीं हुई है।

अभी यह स्पष्ट नहीं है, कृष्णा ने एमआर से रेमडेसिविर इंजेक्शन लिए थे या कृष्णा ने एमआर को इंजेक्शन उपलब्ध कराए थे।

उल्लेखनीय है, बुधवार को पुलिस ने ग्राहक बनकर आरोपी एमआर हर्षित को दो रेमडेसिविर इंजेक्शनों के साथ गिरफ्तार किया था। उसने पुलिस आरक्षक को 70 हजार रुपए में दो इंजेक्शन देने की बात कही थी।

खबरें और भी हैं...